अपना शहर चुनें

States

UP: धान खरीद में शिथिलता पर PCF के कई अफसरों पर गाज, कानपुर और सोनभद्र के RM निलंबित

सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीर

UP: प्रबंध निदेशक ने लापरवाही बरतने वाले प्रभारियों पर कार्रवाई के लिए जिले के सहायक आयुक्त और निबंधक को आदेश दिए हैं. बता दें इस वर्ष पीसीएफ ने पिछली बार की तुलना में इस बार 1.65 लाख मीट्रिक टन अधिक खरीद की है. सूबे के 1435 धान क्रय केंद्रों ये खरीद चल रही है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 28, 2020, 11:01 AM IST
  • Share this:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश में धान खरीद (Paddy Procurement) में शिथिलता बरतने पर अफसरों पर गाज गिरनी शुरू हो गई है. मामले पीसीएफ (PCF) के एमडी ने पीसीएफ के जिला व क्षेत्रीय प्रबंधकों के खिलाफ एक्शन लिया है. इसी क्रम में कानपुर और सोनभद्र के क्षेत्रीय प्रबंधकों को निलंबित कर दिया गया है. वहीं फतेहपुर के जिला प्रबंधक को हटा दिया गया है. प्रबंध निदेशक ने लापरवाही बरतने वाले प्रभारियों पर कार्रवाई के लिए जिले के सहायक आयुक्त और निबंधक को आदेश दिए हैं. बता दें इस वर्ष पीसीएफ ने पिछली बार की तुलना में इस बार 1.65 लाख मीट्रिक टन अधिक खरीद की है. सूबे के 1435 धान क्रय केंद्रों ये खरीद चल रही है.

रोज हो रही धान खरीद की समीक्षा
बता दें धान खरीद की दैनिक समीक्षा की जा रही है और दावा किया गया है कि प्रत्येक दशा में जनपद को आवंटित लक्ष्य के अनुरूप धान क्रय कर लिया जाएगा. सोनभद्र में कुल 75 धान क्रय केन्द्र स्वीकृत हैं. 25 नवम्बर तक कुल 73 क्रय केन्द्रों पर धान खरीद प्रारम्भ हो चुका है. यहां धान खरीद 15 अक्तूबर से शुरू हुई है लेकिन विलम्ब से धान कटाई होने के कारण और आवक मुख्य रूप से दिसम्बर माह में आने की सम्भावना है.

सोनभद्र में 75 क्रय केंद्र में धान खरीद शुरू: जिला प्रशासन
सोनभद्र के जिला प्रशासन के अनुसार बताया कि अब तक इस वर्ष जनपद में कुल 2246 किसानों से 12821.30 मी टन धान खरीदा जा चुका है. यह आवंटित लक्ष्य 115000 मी टन के सापेक्ष 11.15 प्रतिशत है. जनपद में सीमान्त व लघु किसानों को लाभ पहुंचाने के लिए उनकी आवक को वरीयता देते हुए रोज तत्काल खरीद किये जाने के निर्देश दिए गए हैं. वर्तमान में जनपद के सभी 75 क्रय केन्द्रों पर धान खरीद प्रारम्भ की जा चुकी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज