अलर्ट: यूपी, हरियाणा, पंजाब में बिक रहे इस पेट्रोल से उड़ी अफसरों की नींद

पुलिस (Police) ने छापा मारकर एक फैक्ट्री से करीब सवा दो लाख लीटर पेट्रोल-डीजल बरामद किया है. इतनी मात्रा में नकली पेट्रोल पकड़े जाने से तेल कंपनियों के अफसरों की नींद उड़ी हुई है.

News18Hindi
Updated: August 23, 2019, 1:33 PM IST
अलर्ट: यूपी, हरियाणा, पंजाब में बिक रहे इस पेट्रोल से उड़ी अफसरों की नींद
प्रतीकात्मक फोटो- तीन तरह के केमिकल मिलाकर आरोपी पेट्रोल बना रहे थे.
News18Hindi
Updated: August 23, 2019, 1:33 PM IST
दिखने में हू बा हू असली पेट्रोल जैसा. लेकिन रेट के मामले में असली पेट्रोल (Petrol) से बहुत कम. हर रोज चार से पांच टैंकर मेरठ (Meerut) से हरियाणा (Haryana) और पंजाब के लिए रवाना होते हैं. वेस्ट यूपी के भी कुछ शहरों में इस जलेबी पेट्रोल की सप्लाई की जाती है. इसे जलेबी पेट्रोल इसलिए कहा जाता है क्योंकि तीन तरह के केमिकल को मिलाने के बाद उसे पेट्रोल जैसा दिखाने के लिए जलेबी में डाला जाने वाला रंग मिलाया जाता था. मेरठ पुलिस (Police) ने छापा मारकर एक फैक्ट्री से करीब सवा दो लाख लीटर पेट्रोल-डीजल बरामद किया है. मिलावटी पेट्रोल को खपाने के लिए आरोपियों ने जगह-जगह अपने पेट्रोल पम्प Petrol Pump भी खोले हुए हैं. इतनी मात्रा में मिलावटी पेट्रोल पकड़े जाने से तेल कंपनियों के अफसरों की नींद उड़ी हुई है.

फैक्ट्री में ऐसे बनाया जा रहा था पेट्रोल

फैक्ट्री में पकड़े गए आरोपियों ने पुलिस को पेट्रोल बनाकर भी दिखाया. आरोपियों ने बताया कि वह पेट्रोल बनाने में सॉल्वेंट, बैंजीन और थिनर का इस्तेमाल करते हैं. और पेट्रोल की शक्ल देने के लिए जलेबी बनाने में इस्तेमाल होने वाला रंग मिलाया जाता था. ज़मीन में बड़े-बड़े टैंकर फिट किए गए हैं. उन्हीं टैंकर में तीनों कैमिकल डालकर उन्हें मशीन से चलाया जाता है. और फिर मोटरों की सहायता से टैंकरों में भरकर यूपी, हरियाणा और पंजाब के कुछ शहरों में भेज दिया जाता है.

पेट्रोल पम्प पर ऐसे खपाया जाता है जलेबी वाला पेट्रोल

छापे से पहले पुलिस को जानकारी मिली थी कि रिफाइनरी से निकलने वाले टैंकर फैक्ट्री में आते हैं. इस बारे में जब आरोपियों से पूछताछ की गई तो उन्होंने बताया कि रिफाइनरी से आने वाले टैंकर से 40 प्रतिशत असली पेट्रोल निकाल लिया जाता था और नकली पेट्रोल भर दिया जाता था. इस बात की जानकारी उस पेट्रोल पम्प मालिक को भी होती थी जिसका वो टैंकर होता था.

प्रतीकात्मक फोटो- मेरठ पुलिस ने एक फैक्ट्री पर छापा मारकर 2 लाख लीटर से अधिक नकली पेट्रोल बरामद किया है.


40 रुपये थी कीमत, एक बार में तैयार होता था 11 हजार लीटर
Loading...

पकड़े गए आरोपियों का कहना था कि एक बार में 11 हजार लीटर तक पेट्रोल तैयार किया जाता था. इसी तरह 4 से 5 बार तक 11-11 हजार लीटर पेट्रोल की खेप तैयार की जाती थी. कीमत के बारे में आरोपियों का कहना था कि एक लीटर पेट्रोल 40 से 45 रुपये में तैयार हो जाता है. फिर इसे 50 रुपये लीटर की रेट से आगे बेच दिया जाता है.

ये भी पढ़ें- कांग्रेस अब बीजेपी को ऐसे देगी 70 साल के शासनकाल पर उठाए गए सवालों का जवाब

बाढ़-भूकंप में राज्यों से आर्मी और एयरफोर्स का बिल वसूलता है यह मंत्रालय

इसलिए पुलिस ने पहले पीटा CRPF कमांडो, फिर किया गिरफ्तार!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मेरठ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 23, 2019, 1:27 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...