अपना शहर चुनें

States

अयोध्या में घायल युवक की मौत के बाद परिजनों ने लगाए गंभीर आरोप, बोले-पुलिस है मौत की जिम्मेदार

मौत से पहले थाने के बाहर मीडिया से अपनी बात कहता युवक. (फाइल फोटो)
मौत से पहले थाने के बाहर मीडिया से अपनी बात कहता युवक. (फाइल फोटो)

अयोध्या (Ayodhya) में युवक की हत्या के मामले में पुलिस (Police) की बड़ी लापरवाही सामने आई है. पुलिस (Police) जिस मामले को नौटंकी बता रही थी उसमें घायल पीड़ित की इलाज के दौरान मौत (Death) हो गई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 17, 2020, 7:18 PM IST
  • Share this:
अयोध्या. अयोध्या(Ayodhya) में युवक की हत्या के मामले में जनपद के कुमारगंज पुलिस (Police) की बड़ी लापरवाही सामने आई है. मृतक के परिजोनों का आरोप है कि पुलिस ने ना ही केस दर्ज किया और ना ही मृतक का सही से इलाज (treatment) कराया. युवक पर उसके भाई-बहन और बहन के प्रेमी ने कैंची से सिर और पेट में वार किया था. इस मामले में पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज नहीं की. घायल जब तहरीर लेकर कुमारगंज थाने पहुंचा तो पुलिस ने उसे नौटंकी कहकर भगा दिया, लेकिन 3 दिन बाद इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई. सबसे बड़ी बात यह कि मौत के पहले मृतक युवक मीडिया के सामने बयान देता रहा.

मृतक युवक संकटा पर 14 सितम्बर को उसके भाई उसकी बहन और बहन के प्रेमी ने जानलेवा हमला किया था, जिसके बाद उसे सीएचसी कुमारगंज मं इलाज के लिए भर्ती कराया गया था. भर्ती के दौरान ही वो तहरीर लेकर कुमारगंज थाने गया था, लेकिन पुलिस ने उसका मुकदमा नहीं दर्ज किया.

UP: बरेली में हिंदू युवा वाहिनी नेता की जघन्य हत्या का आरोपी इमरान पुलिस एनकाउंटर में गिरफ्तार



पत्नी की शिकायत पर गैर इरादत हत्या का केस दर्ज
आज जब उसकी इलाज के दौरान मौत हो गई तब उसकी पत्नी की तहरीर पर हत्या नहीं गैर इरादतन हत्या का केस दर्ज किया गया है. पूरा मामला थाना कुमारगंज के सिधौना गांव का है, जहां पर 32 वर्षीय युवक संकटा पर उसके सगे भाई उसकी सगी बहन और उसके प्रेमी ने कहा सुनी के बाद कैंची से उसके सिर पर और पेट में हमला किया था. इसकी वजह जमीना विवाद को बताया जा रहा है.

पहले कुमारगंज को सीएचसी उसके बाद जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया था. इसके बाद उसको गंभीर अवस्था में लखनऊ के लिए रिफर कर दिया गया, लेकिन रास्ते में ही आज उसकी मौत हो गई. अब सवाल यह उठता है कि जब घायल युवक थाने पर जाता है तो उसकी सुनी नहीं जाती है उसको नौटंकी कर उसको भगा दिया जाता है. बाद में उसी घायल युवक की मौत हो जाती है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज