Home /News /uttar-pradesh /

Noida-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेस वे पर हादसे के बाद नहीं पलटेगी गाड़ी, अथॉरिटी लगा रही खास बैरियर

Noida-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेस वे पर हादसे के बाद नहीं पलटेगी गाड़ी, अथॉरिटी लगा रही खास बैरियर

सेंट्रल वर्ज पर कटीले तारों की जगह अब लोहे के तारों का बैरियर लगाया जा रहा है. file photo

सेंट्रल वर्ज पर कटीले तारों की जगह अब लोहे के तारों का बैरियर लगाया जा रहा है. file photo

25 किमी लम्बे नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेस वे पर जल्द ही नोएडा अथॉरिटी (Noida Authority) भी अपने हिस्से में तारों का बैरियर लगवाना शुरू कर सकती है.

    नोएडा. किसी भी एक्सप्रेस वे के सेंट्रल वर्ज पर पुख्ता इंतजाम न होने के चलते हादसों (Accident) की रफ्तार बढ़ जाती है. हादसे के वक्त वाहन एक साइड से दूसरी तरफ चले जाते हैं तो हादसा और भी भीषण  हो जाता है. लेकिन नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेस वे (Noida-Greater Expressway) पर अब ऐसा नहीं होगा. हादसे के बाद वाहन सड़क पर पलटेगा भी नहीं. साथ ही तेज रफ्तार में दौड़ता वाहन हादसे के बाद दूसरी साइड जाकर किसी और वाहन को भी टक्कर नहीं मारेगा. इसके  लिए ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी (Greater Noida Authority) ने बड़ा कदम उठाया है. सेंट्रल वर्ज पर कटीले तारों की जगह अब लोहे के तारों का बैरियर लगाया जा रहा है. 25 किमी लम्बे नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेस वे पर जल्द ही नोएडा अथॉरिटी (Noida Authority) भी अपने हिस्से में तारों का बैरियर लगवाना शुरू कर सकती है.

    सवा तीन किमी के बैरियर पर आएगा 2.5 करोड़ का खर्च

    गौरतलब रहे नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेस वे की लम्बाई 25 किमी है. 25 किमी में से सवा तीन किमी का हिस्सा ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी में आता है. बाकी का हिस्सा नोएडा अथॉरिटी देखती है. लोगे के मोटी रस्सी के बैरियर का काम अभी ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी ने शुरू कराया है. काम की शुरूआत हो चुकी है. सेंट्रल वर्ज पर एक निश्चित ऊंचाई तक तीन से चार तारों का एक लचीला बैरियर बनाया जाएगा. इसी तरह से यह बैरियर सेंट्रल वर्ज पर आगे की ओर बढ़ता रहेगा.

    18 टन तक का वजन सह सकेंगे लोहे के बैरियर

    जानकारों की मानें तो नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेस वे के सेंट्रल वर्ज पर बनने वाले बैरियर के लिए लगाए जा रहे लोहे के रस्से इतने मजबूत हैं कि 1 टन तक का वजन सह सकते हैं. इन्हें रोप बैरियर भी कहा जाता है. मतलब यह कि अगर सामान से लदा कोई ट्रक भी अगर रोप बैरियर पर गिर जाता है तो बैरियर टूटेगा नहीं.

    नोएडा में गोल्फ कोर्स के लिए रजिस्ट्रेशन शुरू, एंट्री फीस इतनी कि खरीद लेंगे SUV

    साथ ही हादसे के बाद ट्रक भी एक्सप्रेस वे के दूसरी साइट जाकर नहीं गिरेगा और एक बड़ा हादसा होने से बच जाएगा. अभी तक सेंट्रल वर्ज पर कटीले तार लगे हैं. लेकिन अक्सर यह चोरी हो जाते हैं. खुली जगह से लोग निकलना शुरू कर देते हैं. इसकी वजह से भी हादसे होने की संभावना बनी रहती है.

    Tags: Greater noida news, Noida Authority, Noida Expressway

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर