Home /News /uttar-pradesh /

28 trees will be transplanted in shahjahan garden for agra metro of taj mahal upns

ताजमहल मेट्रो स्टेशन की राह में रोड़ा बने 28 पेड़, शाहजहां गार्डन में शिफ्ट करने की तैयारी

इससे पहले लखनऊ और कानुपर में भी मेट्रो कार्यों के दौरान पेड़ों को स्थान परिवर्तित किए गए थे.

इससे पहले लखनऊ और कानुपर में भी मेट्रो कार्यों के दौरान पेड़ों को स्थान परिवर्तित किए गए थे.

Agra Metro News: उत्तर प्रदेश मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (यूपीएमआरसी) प्रबंध निदेशक कुमार केशव का कहना है कि हमारा उद्देश्य बिना किसी पेड़ को काटे प्रोजेक्ट को पूरा करना है. जितना हो सकता है, उतना पेड़ों को बचाया जाएगा. इससे पहले लखनऊ और कानुपर में भी मेट्रो कार्यों के दौरान पेड़ों को स्थान परिवर्तित किए गए थे.

अधिक पढ़ें ...

आगरा. ताजमहल मेट्रो स्टेशन की राह में रोड़ा बने 28 पेड़ों को शाहजहां गार्डन में ट्रांसप्लांट किया जाएगा. यूपी मेट्रो की टीम आगरा द्वारा पेड़ों के ट्रांसप्लांटेशन को लेकर तैयारियां पूरी कर ली गई हैं, जल्द ही पेड़ों को शाहजहां गार्डन में ही अन्य जगह शिफ्ट किया जाएगा. उत्तर प्रदेश मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (यूपीएमआरसी) प्रबंध निदेशक कुमार केशव का कहना है कि हमारा उद्देश्य बिना किसी पेड़ को काटे प्रोजेक्ट को पूरा करना है. जितना हो सकता है, उतना पेड़ों को बचाया जाएगा. इससे पहले लखनऊ और कानुपर में भी मेट्रो कार्यों के दौरान पेड़ों को स्थान परिवर्तित किए गए थे.

यूपीएमआरसी के प्रबंध निदेशक कुमार केशव ने बताया कि ताजमहल मेट्रो स्टेशन परिसर में आ रहे लगभग 28 पेड़ों को शाहजहां गार्डन में ही अन्य जगह ट्रांसप्लांट (शिफ्ट) किया जाएगा. कुमार केशव ने कहा कि अधिक से अधिक पेड़ों को बचाना एवं उनकों संरक्षित करना हमेशा ही यूपी मेट्रो का लक्ष्य रहा है. उन्होंने बताया कि आगरा मेट्रो डिपो परिसर में भी पेड़ ट्रांसप्लांट किए गए हैं. इसके साथ ही लखनऊ एवं कानपुर में पेड़ों को ट्रांसप्लांट किया गया है.

गर्लफ्रेंड के चक्कर में बन गए बाइक चोर गैंग के सरगना, कोई BSC है तो कोई BA पास

कई चरणों में होती है पेड़ों के शिफ्टिंग की प्रक्रिया

पेड़ों को ट्रांसप्लांट (शिफ्ट) करने की प्रक्रिया कई चरण में पूरी होती है. इस प्रक्रिया में सबसे पहले खुदाई करके पेड़ की जड़ों को मिट्टी सहित गोल आकार में अलग किया जाता है. इसके बाद पेड़ की जड़ों की बढ़वार के लिए उसपर दवा का छिड़काव किया जाता है. जड़ों को कवर करके कुछ दिन के लिए छोड़ दिया जाता है. इसके बाद जब जड़ें पुन: बढ़ने लगी हैं तो उन्हें दूसरी जगह शिफ्ट कर दिया जाता है. बता दें कि यूपी मेट्रो के प्रबंध निदेशक कुमार केशव पर्यावरण संरक्षण को लेकर बेहद सजग हैं. इसी का परिणाम है कि लखनऊ, कानपुर एवं आगरा मेट्रो परियोजनाओं में पर्यावरण संरक्षण पर विशेष ध्यान दिया गया है.

Tags: Agra Metro, Agra taj mahal, Up forest department, UP news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर