होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /UP News: आगरा के पिनाहट ब्लॉक में वायरल बुखार से मचा हाहाकार, 30 दिन में 29 लोगों की मौत

UP News: आगरा के पिनाहट ब्लॉक में वायरल बुखार से मचा हाहाकार, 30 दिन में 29 लोगों की मौत

Agra: लगातार बढ़ रहे मौतों के ग्राफ से जिला प्रशासन में मचा हड़कंप  (प्रतीकात्मक तस्वीर)

Agra: लगातार बढ़ रहे मौतों के ग्राफ से जिला प्रशासन में मचा हड़कंप (प्रतीकात्मक तस्वीर)

Viral Fever in UP: स्वास्थ्य विभाग की टीम लगातार गांव-गांव हेल्थ कैंप लगाकर ग्रामीणों का स्वास्थ्य परीक्षण कर दवा वितरण ...अधिक पढ़ें

आगरा. ताजनगरी आगरा (Agra) में रहस्यमयी बुखार (Viral Fever) से बच्चों की मौत का सिलसिला थम नहीं रहा. आगरा जनपद के ब्लॉक पिनाहट क्षेत्र में 4 और बच्चों की मौत से यह संख्या फिर बढ़ गई है. अब तक इस बुखार की वजह से 29 बच्चों की जान जा चुकी है. पिढ़ौरा के चंडीगढ़शाला गांव में छह माह के शिशु की मौत. रीठई गांव में एक साल के बच्चे की मौत और दलईपुरा, बाह के रंपुरा में एक-एक मौत हुई है. जबकि महीने भर में बुखार से पिनाहट ब्लॉक में 29 लोगों की मौत से कोहराम मचा हुआ है. वायरल बुखार के प्रकोप से घर-घर में चारपाई बिछी है. लगातार बढ़ रहे मौतों के ग्राफ से जिला प्रशासन में हड़कंप मचा है.

जिलाधिकारी से लेकर चिकित्सा विभाग के अधिकारी भी एक्टिव हो गए हैं. प्रशासन के अधिकारी पिनाहट क्षेत्र का दौरा कर लोगों को जागरूक कर रहे हैं, फिर भी रहस्यमयी बुखार से मौत का सिलसिला थम नहीं रहा है. सीएमओ डॉ. अरुण कुमार श्रीवास्तव का कहना है कि ग्रामीण क्षेत्रों में बुखार से हो रही मौत की वजह समय पर जांच नहीं करवाना पाया जा रहा है. बीमार होने पर झोलाछापों से इलाज करवाया जा रहा है. उन्होंने कहा कि अभियान चलवाकर झोलाछापों पर कार्रवाई की जाएगी.

लखीमपुर खीरी हिंसा: आशीष मिश्रा को 14 दिन की ज्यूडिशियल कस्टडी में भेजा गया जेल, सोमवार को होगी सुनवाई

आपके शहर से (आगरा)

आगरा जनपद में मासूमों की मौत पर समूचे क्षेत्र में शोक की लहर है. पिनाहट क्षेत्र में अब हर कोई अपने बच्चो को लेकर चिंतित हैं. वहीं स्वास्थ्य विभाग की टीम लगातार गांव-गांव हेल्थ कैंप लगाकर ग्रामीणों का स्वास्थ्य परीक्षण कर दवा वितरण कर रही है. जागरूकता अभियान चलाकर लोगों को सतर्क रहने को कहा जा रहा है.

Tags: Agra news, CM Yogi, Corona Cases, UP news, Viral Fever, Viral Fever in UP, Yogi government

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें