होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /आगरा में बुखार से 4 और बच्चों की मौत, गांव-गांव में लगे कैंप, अब तक 22 की जा चुकी है जान

आगरा में बुखार से 4 और बच्चों की मौत, गांव-गांव में लगे कैंप, अब तक 22 की जा चुकी है जान

Agra mysterious fever news: आगरा के पिनाहट ब्लॉक क्षेत्र में अब तक रहस्यमयी बुखार से 22 बच्चों की हो चुकी है मौत.

Agra mysterious fever news: आगरा के पिनाहट ब्लॉक क्षेत्र में अब तक रहस्यमयी बुखार से 22 बच्चों की हो चुकी है मौत.

Agra mysterious fever news: आगरा के पिनाहट ब्लॉक इलाके में रहस्यमयी बुखार से अब तक 22 बच्चों की जान जाने से मचा हड़कंप. ...अधिक पढ़ें

आगरा. ताजनगरी में रहस्यमयी बुखार से बच्चों की मौत का सिलसिला थम नहीं रहा. आगरा जनपद के ब्लॉक पिनाहट क्षेत्र में 4 और बच्चों की मौत से यह संख्या फिर बढ़ गई है. अब तक इस बुखार की वजह से 22 बच्चों की जान जा चुकी है. पिछले कुछ दिनों में ही रहस्यमयी बुखार से इतनी बड़ी तादाद में बच्चों की मौत के बाद स्वास्थ्य विभाग भी हरकत में है. विभाग की टीम ब्लॉक पिनाहट के गांव-गांव में लगातार कैम्प लगाकर लोगों के इलाज में जुटी है.

स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक पिनाहट ब्लॉक क्षेत्र में डेंगू और वाइरल बुखार का भीषण प्रकोप चल रहा है. बुखार से कई गांवों के घर-घर चारपाई में बिछी हुई है. अभी तक पिनाहट क्षेत्र में करीब 22 मासूमों की बुखार से मौत के बाद जिलाधिकारी से लेकर चिकित्सा विभाग के अधिकारी भी एक्टिव हो गए हैं. प्रशासन के अधिकारी पिनाहट क्षेत्र का दौरा कर लोगों को जागरूक कर रहे हैं, फिर भी रहस्यमयी बुखार से मौत का सिलसिला थम नहीं रहा है.

" isDesktop="true" id="3779290" >

आपके शहर से (आगरा)

जानकारी के मुताबिक पिछले दो दिनों में पिनाहट के हनुमान नगर मोहल्ला निवासी राम साहय के 10 माह के पुत्र गोलू और जोधपुरा निवासी पिंटू के 5 माह के पुत्र आदर्श की इस जानलेवा बुखार से मौत हो गई. दूसरी ओर विनोद की तीन साल की बेटी को भी आठ दिन से बुखार आ रहा था. तबीयत ज्यादा बिगड़ी तो परिजन बच्ची को पहले शहर के नर्सिंग होम और बाद में पीजीआई नोएडा लेकर गए. लेकिन लगातार इलाज के बाद भी बच्ची को बचाया नहीं जा सका. क्षेत्र के ही गांव गरकटू निवासी धम्मू सिंह का 1 वर्षीय पुत्र कन्हैया की भी 2 दिन के बुखार के बाद इलाज के दौरान मौत हो गई.

आगरा जनपद में मासूमों की मौत पर समूचे क्षेत्र में शोक की लहर है. पिनाहट क्षेत्र में अब हर कोई अपने बच्चो को लेकर चिंतित हैं. वही स्वास्थ्य विभाग की टीम लगातार गांव-गांव हेल्थ कैंप लगाकर ग्रामीणों का स्वास्थ्य परीक्षण कर दवा वितरण कर रही है. जागरूकता अभियान चलाकर लोगों को सतर्क रहने को कहा जा रहा है.

Tags: Child death, Dengue fever, Viral Fever in UP