10 साल बाद हजार किमी दूर से आकर मां से मिला बेटा और फिर...

स्टेशन पर पहले से आगरा पुलिस (Agra Police) बेटे का इंतजार कर रही थी. आगरा पुलिस ने गुजरात से आए महेंद्र कुमार का वेलकम किया और फिर पुलिस आधे घंटे में बेटे को लेकर शमसाबाद थाने पहुंची.

News18 Uttar Pradesh
Updated: August 12, 2019, 8:52 PM IST
10 साल बाद हजार किमी दूर से आकर मां से मिला बेटा और फिर...
10 साल बाद हजार किमी दूर से आकर मां से मिला बेटा और फिर...
News18 Uttar Pradesh
Updated: August 12, 2019, 8:52 PM IST
दस साल बाद एक बेटा अपनी मां से मिलने हजार किलोमीटर दूर से आया. आगरा (Agra) फोर्ट स्टेशन पर तेज कदमों से आगे बढ़ते बेटे को मां शांताबेन की ममता पुकार रही थी. स्टेशन पर पहले से आगरा पुलिस (Agra Police) बेटे का इंतजार कर रही थी. आगरा पुलिस ने गुजरात से आए महेंद्र कुमार का वेलकम किया और फिर पुलिस आधे घंटे में बेटे को लेकर शमसाबाद थाने पहुंची. थाना परिसर में महिला कांस्टेबल के साथ मानसिक रूप से कुछ कमजोर मां इस बात से बेखबर थी कि उसका लाल उसे लेने आ रहा है. थानाध्यक्ष के ऑफिस में महिला कांस्टेबल जब शांता बेन को लेकर पहुंची तो बेटा महेंद्र उनसे लिपटकर रो पड़ा. यह खुशी के आंसू थे. यह प्रशंसनीय कार्य आगरा पुलिस ने किया था. मां-बेटे का बरसों बाद मिलन देख सबकी आंखों में आंसू आ गए.

बीते 7 अगस्त को आगरा के शमसाबाद कस्बे में भीड़ ने बच्चा चोर कहकर मैले-कुचैले कपड़ों में घूमती महिला को पीटना शुरू कर दिया. मौके पर पहुंची शमसाबाद पुलिस महिला को थाने लेकर आई. महिला गुजराती बोल रही थी. पुलिस ने महिला से कई चरण में पूछताछ की तो यह पता चला कि उसका ताल्लुक गुजरात से है. महिला बार-बार भरूच नाम ले रही थी तो पुलिस ने गूगल पर भरूच तलाशकर वहां के एसपी कार्यालय में सम्पर्क किया.

इधर महिला ने पूछताछ में अपने भाई का नाम कांता भाई तड़वी बताया. शमसाबाद एसओ ने वहां के कई थानों का नंबर लेकर बात की तो गरूड़ेश्वर थाने के एसओ जगदीश पटेल ने जानकारी दी कि तड़वी सरनेम के लोग उनके क्षेत्र में रहते हैं. इंस्पेक्टर गरूड़ेश्वर ने कई व्हाट्सऐप ग्रुपों में महिला की तस्वीर शेयर कर दी. संजोग से तस्वीर महिला शांताबेन के भाई कांताभाई तड़वी को मिल गई. कांता भाई गरुड़ेश्वर थाने पहुंचे और आगरा में मिली महिला को अपनी बहन बताया. बाढ़ की वजह से कांताभाई तो नहीं आ सके लेकिन महिला का बेटा महेंद्र 1000 किलोमीटर दूर से आगरा में अपनी मां को लेने पहुंच गया. 10 साल बाद मां-बेटे मिले तो दोनों की आंखों में खुशी के आंसू आ गए.

रिपोर्ट - हिमांशु त्रिपाठी 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए आगरा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 12, 2019, 8:43 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...