लाइव टीवी

लॉकडाउन के बीच आगरा के किसानों पर नई मुसीबत, टिड्डी दल पहुंचा राजस्थान, रहें अलर्ट
Agra News in Hindi

News18Hindi
Updated: May 21, 2020, 12:42 PM IST
लॉकडाउन के बीच आगरा के किसानों पर नई मुसीबत, टिड्डी दल पहुंचा राजस्थान, रहें अलर्ट
टिड्डियों ने अब आगरा के किसानों की चिंता बढ़ा दी है. प्रशासन ने अलर्ट जारी किया है.

जिला कृषि रक्षा अधिकारी, आगरा (Agra) डॉ राम प्रवेश की तरफ से जारी इस अलर्ट में कहा गया है कि किसान भाइयों को सूचित करना है कि आगरा के सीमावर्ती प्रदेश राजस्थान के दौसा जिले तक टिड्डी दल पहुंच गया है. लॉकडाउन के बीच तमाम समस्याओं से जूझ रहे किसानों के सामने अब नई परेशानी ने दस्तक दी है.

  • Share this:
आगरा. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में एक तरफ आगरा (Agra) लॉकडाउन (Lockdown) में कोरोना संक्रमण (COVID-19 Infection) से जूझ रहा है. वहीं अब जिले के किसानों के लिए जिला प्रशासन ने नया अलर्ट (Alert) जारी किया है. इस अलर्ट में टि्ड्डी दल (Locust) से सचेत रहने को कहा गया है. जिला कृषि रक्षा अधिकारी, आगरा डॉ राम प्रवेश की तरफ से जारी इस अलर्ट में कहा गया है कि किसान भाइयों को सूचित करना है कि आगरा के सीमावर्ती प्रदेश राजस्थान के दौसा जिले तक टिड्डी दल पहुंच गया है. लॉकडाउन के बीच तमाम समस्याओं से जूझ रहे किसानों के सामने अब नई परेशानी ने दस्तक दी है.

फिलहाल आगरा में टिड्डी दल का असर नहीं

डॉ राम प्रवेश के अनुसार अभी आगरा जनपद में टिड्डी दल का कोई असर नहीं है. लेकिन जनपद दौसा तक आने की सूचना मिली है, इस कारण सतर्कता आवश्यक है. टिड्डी दल के प्रकोप की सूचना मिलते ही अपने विकास खंड की कृषि रक्षा इकाई या जिला कृषि रक्षा अधिकारी को सूचित करें.



आक्रमण होते ही यहां करें फोन



इसके अलावा टिड्डी दल के आक्रमण की दशा में क्षेत्रीय एकीकृत नाशीजीव प्रबंध केंद्र लखनऊ के नंबर 0522-2732063 पर सूचना दें. उन्होंने कहा हक् कि टिड्डी दल एक दिन में 100 से 150 किलोमीटर तक उड़ने की क्षमता रखता है. यह हरी सब्जियों, फसलों, बाग, बगीचे में हमला करता है. उन्होंने सुझाव दिया है कि टिड्डी दल के आक्रमण के समय धुआं करके, थाली, ढोल या टिन के डिब्बे पीटकर भी भगाया जा सकता है.



ये केमिकल भी कर सकते हैं स्प्रे

इसके अलावा रासायनिक नियंत्रण के लिए क्लोरोपायरीफास 50 प्रतिशत Ec या डेल्टामथ्रिन 28 प्रतिशत Ec या प्रियोनिल 5 प्रतिश Ec या लैम्बडासायहैलोथ्रिन 5 प्रतिशत Ec मैलाथियान 50 प्रतिशत Ec की एक मिलीलीटर दवा प्रति लीटर पानी में घोलकर या क्लोरोपायरीफास 20 प्रतिशत Ec की 2.5 मिलीलीटर दवा जो प्रति लीटर पानी में घोलकर हाई वॉल्यूम स्प्रेयर से स्प्रे करें.

ये भी पढ़ें:

भारतीय रेलवे के 1 जून से 100 ट्रेन चलाने के ऐलान के बाद UP के इन शहरों को राहत

UP Live News: 'कोरोना के संबंध में हजारों FIR से लग रहा ये आपराधिक समस्या है'
First published: May 21, 2020, 12:41 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading