Agra Bus Hijack: मास्टरमाइंड प्रदीप गुप्ता की ये है आपराधिक कुंडली, जा चुका है जेल
Agra News in Hindi

Agra Bus Hijack: मास्टरमाइंड प्रदीप गुप्ता की ये है आपराधिक कुंडली, जा चुका है जेल
गोली लगने से घायल हुआ प्रदीप गुप्ता

Agra Bus Hijack: प्रदीप गुप्ता शातिर बदमाश है और कई वारदातों में इसका नाम रहा है. भ्रष्‍टाचार के मामले में वह जेल भी जा चुका है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 20, 2020, 10:45 AM IST
  • Share this:
आगरा. फाइनेंस कंपनी के नाम पर बस को अगवा कर पुलिस (Police) को घनचक्कर बनाने वाले शातिर प्रदीप गुप्ता (Pradeep Gupta) को फतेहाबाद क्षेत्र से एनकाउंटर (Encounter) के बाद गिरफ्तार किया गया. बस को अगवा करने वाले प्रदीप गुप्ता को पैर में गोली लगी है. उसे इलाज के अस्पताल में एडमिट कराया गया है. अब पुलिस प्रदीप गुप्ता से पूछताछ कर उसके अन्य साथियों की तलाश करेगी. बता दें कि प्रदीप गुप्ता शातिर बदमाश है और कई वारदात में इसका नाम शामिल रहा है. आरटीओ के बड़े एजेंट के रूप में उसकी पहचान रही है. वह जेल जा चुका है.

एसएसपी बबलू कुमार ने बताया कि बुधवार को बस हाईजैक की घटना के बाद जब इसका नाम सामने आया तो पुलिस की पांच टीमें गिरफ़्तारी के लिए लगाई गई थीं. वह लगातार लोकेशन बदल रहा था. गुरुवार सुबह पांच बजे के करीब फतेहाबाद थाना क्षेत्र में पुलिस ने उसे घेरा तो वह बाइक से ही फायरिंग करनी शुरू कर दी. जवाबी फायरिंग में उसके पैर में गोली लगी, जबकि उसका एक साथी फरार हो गया. इलाज के बाद उससे पूछताछ कर अन्य की गिरफ़्तारी सुनिश्चित की जाएगी.





2018 में गया था जेल
एसएसपी ने बताया कि जांच में पता चला है कि यह इटावा के आरटीओ ऑफिस में दलाली का काम करता था. इस दौरान गाड़ियों के फर्जी कागजात बनाने व अन्य फर्जीवाड़े में इसकी संलिप्तता मिली है. साल 2018 में एंटी करप्शन के मामले में प्रदीप जेल की सजा भी काट चुका है. यह आदतन अपराधी रहा है. अब पूछताछ कर पूरे मामले का खुलासा किया जाएगा. एसएसपी के मुताबिक प्रदीप गुप्ता जैतपुर आगरा का रहने वाला है. यह इटावा में फर्जी आरटीओ के तौर पर काम करता था. उन्होंने बताया कि यह प्रदीप यादव नाम के एक शख्स के साथ ट्रेवल का काम करता था. दोनों ने कई बसें इसी तरह हड़पी थीं. बुधवार वाली घटना को भी दोनों ने अन्य साथियों के साथ मिलकर अंजाम दिया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज