Home /News /uttar-pradesh /

agra four friends started a unique startup enjoy books with a cup of tea

आगरा:-चार यारों ने मिलकर शुरू किया अनोखा स्टार्टअप,चाय की चुस्कियों के साथ लीजिए किताबों का आनंद

X

आगरा के चार दोस्तों ने अच्छी नौकरी के साथ स्टार्टअप करने के लिए चाय के साथ यूनिक एक्सपेरिमेंट करते हुए टी बुक स्टॉल शुरू किया है.उन्होंने इस स्टॉल को नाम दिया है Tea Know Age .यहां पर व्यक्ति अच्छी चाय के साथ अच्छी किताबें भी पढ़ सकता है.उनका कहना है की चाय को वैल्यू देने के लिए ?

अधिक पढ़ें ...

    रिपोर्ट हरिकांत शर्मा

    आगरा:-ज्यादातर लोगों की इच्छा होती है कि अच्छी पढ़ाई लिखाई करने के बाद में या तो नौकरी करें या फिर अपना खुद का बिजनेस.लेकिन बिजनेस किस चीज का करना है इस दुविधा में फंस जाते हैं और अपना बहुत सारा समय गवां देते हैं.छोटा बिजनेस उनको रास नहीं आता है करना सबको बड़ा है.लेकिन शुरुआत कहां से करें यह मन में सवाल रहता है.इसी सवाल का जवाब आगरा के चार दोस्तों ने दिया.जिन्होंने कुछ ऐसा कर दिखाया है जिससे लोग इंस्पायर होकर अपना खुद का स्टार्टअप करने की सोच रहे हैं.

    चाय के स्टॉल पर चाय पीने के साथ-साथ आपको मिलेंगी पढ़ने को फ्री किताबें
    आगरा के चार दोस्तों ने अच्छी नौकरी के साथ स्टार्टअप करने के लिए चाय के साथ यूनिक एक्सपेरिमेंट करते हुए टी बुक स्टॉल शुरू किया है.उन्होंने इस स्टॉल को नाम दिया है Tea Know Age .यहां पर व्यक्ति अच्छी चाय के साथ अच्छी किताबें भी पढ़ सकता है.उनका कहना है की चाय को वैल्यू देने के लिए उन्होंने यह काम शुरू किया है.चाय के साथ गुटखा और सिगरेट की बजाए लाइब्रेरी होनी चाहिए .

    सड़क किनारे बिजनेस करना लोग आज भी समझते हैं छोटा,सोच बदलने की है जरूरत
    करकुंज चौराहे पर यह टी-स्टाल लगाया गया है.आगरा के चार दोस्तों अमित सक्सेना , राहुल वर्मा , दीपक भदौरिया और लोकेंद्र ने चार साल की तैयारी के बाद ‘Tea Know Age’ नाम से चाय का स्टॉल शुरू किया है.चारों की दोस्ती एक कंपनी में काम करने के दौरान हुई थी और तभी उन्होंने सोचा कि जॉब करने के साथ-साथ अपना कुछबिजनेस शुरू किया जाए.फिर चारों दोस्तों ने आपस में मिलकर डेढ़ लाख रुपये से इस स्टॉल को शुरू किया.रोजाना आफिस ड्यूटी खत्म कर के शाम 6 बजे से 10 बजे और रविवार को सुबह 10 से रात 10 बजे तक इनका स्टॉल खुलता है.अमित सक्सेना कहते हैं कि कोई भी स्टार्टअप छोटा नहीं होता है. लोग सड़क किनारे बिजनेस लगाने में शर्मिंदगी महसूस करते हैं.

    ₹10 में मिलती है चाय और पढ़ने को किताबें
    चाय की दुकान में 10 रुपये से 19 रुपये तक की चाय मिलती है और 5 अलग वाटर फ्लेवर हैं.इसके साथ ही यहां पर 24 रुपये प्रति कप के दाम में आठ फ्लेवर की कॉफी भी मिलती है.स्टॉल पर अभी 150 से ज्यादा किताबें हैं जो कोई भी मुफ्त में आकर पढ़ सकता है.इसके लिए उसे चाय खरीदना भी जरूरी नहीं है और कोई टाइम लिमिट भी नहीं है.स्टॉल का पीएम स्वावलम्बन योजना के तहत नगर निगम में रजिस्ट्रेशन भी करवाया गया है.

    कैसे बदल गयी चारों दोस्तों की दोस्ती बिजनेस पाटनर में
    फ्रेंड्स ग्रुप के लीडर अमित सक्सेना ने बताया कि चार साल पहले उनकी जॉब छूट गयी थी.शू एक्सपोर्ट का काम शुरू किया तो घाटा हो गया, फिर एग्रीकल्चर क्षेत्र में ऑर्गेनिक प्रोडक्ट्स का काम शुरू किया और वहां भी घाटा हो गया.इसके बाद मेंटल स्ट्रेस काफी बढ़ गया था.किसी ने सुझाव दिया कि खाली समय मे किताब पढ़कर स्किल्स करो .7 हैबिट नामक किताब पढ़ी और काफी आनन्द आया.तीनों दोस्त भी पढ़ने के लिए किताब ले जाते थे.वे हर माह 5 किताबें जरूर खरीद कर पढ़ते थे.इस कारण किताबें इकट्ठा हो गयीं.हमने सोचा कि चाय की दुकान पर जब गुटखा सिगरेट हो सकता है तो लाइब्रेरी क्यों नहीं हो सकती है.चाय का स्टैंडर्ड बदलने के विचार से हमने यह काम शुरू किया.

    चाय बनाने और पिलाने के दौरान बढिया पैंट शर्ट और जूतों में चारों स्मार्ट कारपोरेट वर्कर लोगों को सर्व करते हैं और उन्हें इस काम से खुशी होती है.टीम मेम्बर राहुल वर्मा ने बताया कि हम लोगों ने पहले शहर की नामी चाय की दुकानों, बड़े रेस्टोरेंट्स पर जाकर स्टडी किया.चाय के फ्लेवर्स की जानकारी की और दोस्तों, परिवार वालों को चाय बना – बना कर पिलाई और फीडबैक लिए.आज हम चारों में से कोई भी हमारे मेन्यू में शामिल सभी तरह की चाय बना लेता है और आठों तरह की कॉफी बना लेता है.कस्टमर को सभी के हाथ की बनाई चाय में एक जैसा स्वाद मिलेगा.हमारे यहां की नार्मल चाय के साथ, बम्बई मसाला चाय, चॉकलेट चाय लोगों को बहुत पसंद आती है.

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर