Home /News /uttar-pradesh /

Swachhta Survey Result 2021 : स्वच्छता के दावे हुए हवा, सर्वेक्षण में 8 अंक लुढ़की ताजनगरी

Swachhta Survey Result 2021 : स्वच्छता के दावे हुए हवा, सर्वेक्षण में 8 अंक लुढ़की ताजनगरी

हर तरफ पसरी गंदगी से खराब हो रही आगरा की छवि.

हर तरफ पसरी गंदगी से खराब हो रही आगरा की छवि.

Swachhta Survey Result 2021 : स्वच्छता सर्वेक्षण 2021 के नतीजे शनिवार को केंद्र की ओर से जारी किए गए. नतीजों से आगरा को हताशा हाथ लगी है क्योंकि शहर दस प्रमुख शहरों में जगह नहीं बना सका. इतना ही नहीं पिछले सर्वेक्षण में 16वें स्थान पर रहने वाली ताजनगरी इस बार 24वें स्थान पर आ गई.

अधिक पढ़ें ...

    कामिर क़ुरैशी

    आगरा. स्वच्छता सर्वेक्षण के नतीजों में दस खास शहरों में जगह बनाना अपने आप में एक खास इनाम है. यह दर्शाता है कि वहां सरकार, प्रशासन और जनता सफाई को लेकर कितनी जागरूक है लेकिन आगरा के लिए पिछले कुछ सालों से यह तमगा पाना मुश्किल बना हुआ है. स्वच्छता सर्वेक्षण 2021 के दौरान आगरा प्रशासन की ओर से बड़े दावे किए गए थे लेकिन अब इसके नतीजों ने सभी दावों की हवा निकाल दी है.

    सफाई व्यवस्था में बरती गई लापरवाही के कारण ताजनगरी यानी आगरा स्वच्छता सर्वेक्षण 2021 के दस प्रमुख साफ शहरों में स्थान बनाने से चूक गई है. इस कारण हर शहरवासी का दिल भी टूट गया है। यह नतीजे सफाई व्यवस्था और जनता से मिले फीडबैक के आधार पर तैयार किए गए हैं, जिन्हें केंद्र सरकार ने शनिवार दोपहर जारी किया.

    पिछड़ता ही जा रहा है हर बार

    नतीजों के अनुसार आगरा देश में 24वें नंबर पर रहा। गौरतलब है कि सर्वेक्षण-2020 में आगरा देश में 16वें नंबर पर रहा था यानी आगरा की रैंक में 8 अंक की कमी आई है. इसकी वजह स्थानीय स्तर पर बरती गई लापरवाही है. अफसरों द्वारा डोर टू डोर कूड़ा कलेक्शन ठीक तरीके से नहीं किया गया. यहां तक सफाई व्यवस्था को लेकर जो भी शिकायतें आई हैं उनका भी समुचित तरीके से निस्तारण नहीं कराया गया. इसके कारण फीडबैक खराब रहा.

    अगले सर्वेक्षण पर है अब नज़र

    वर्तमान नतीज़ों से हताश निगम प्रशासन ने अब सर्वेक्षण-2022 की तैयारियां शुरू कर दी हैं. जनवरी 2022 में केंद्रीय टीम सर्वे के लिए आगरा आ रही है. टीम तीन सप्ताह तक शहर में रहेगी और जनता से फीडबैक लेगी. रोड और गलियों में हो रही सफाई का सत्यापन करेगी. गौरतलब है कि केंद्र सरकार के आदेश पर वर्ष 2017 में स्वच्छ सर्वेक्षण प्रतियोगिता शुरू हुई थी. पहली बार हुई प्रतियोगिता में नगर निगम आगरा देश में 282वें नंबर पर रहा था. 2019 में आगरा 82वें नंबर पर पहुंच गया लेकिन इस साल सर्वेक्षण के दौरान सफाई व्यवस्था में लापरवाही बरती गई. ठीक से मानीटरिंग न होने के कारण रोड और गलियों की ठीक से सफाई नहीं हुई. साथ ही प्रचार प्रसार की प्र​क्रिया में भी प्रशासन पिछड़ गया.

    Tags: Agra Municipal Corporation, Agra news, Swachh Bharat Mission

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर