अपना शहर चुनें

States

UP Panchayat Chunav 2021: सबसे बड़ा सवाल- चुनाव जीत कर आने वाले प्रधान और पंच-सरपंच करेंगे बैठक?

उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनाव होने हैं. (Symbolic Pic)
उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनाव होने हैं. (Symbolic Pic)

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में हर ग्राम पंचायत (Gram Panchayat) में पंचायत भवन होना अनिवार्य कर दिया गया है, लेकिन आगरा पंचायत भवनों को दुरुस्‍त करने के मामले में पिछड़ा हुआ है.

  • Share this:
आगरा. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में हर ग्राम पंचायत (Gram Panchayat) में पंचायत भवन होना अनिवार्य कर दिया गया है. आगामी पंचायत चुनाव (Panchayat Chunav) में चुनी जाने वाली गांव की सरकार इन्हीं पंचायत भवनों से संचालित किए जाने के निर्देश भी जारी किए गए हैं.  इस निर्देश के पालन के लिए शासन ने हर एक पंचायत भवन को दुरुस्त करने के निर्देश दिए थे. शासन के इस निर्देश के पालन के लिए मंडल में मरम्मत के लिए 366 पंचायत भवन चिह्नित किए गए थे, इनमें से 218 पंचायत भवनों का मरम्मत हो चुका है. भवनों मरम्मत के मामले में आगरा सबसे पीछे है. जबकि मथुरा और मैनपुरी ने अपना लक्ष्य पूर कर लिया है.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक आगरा में 194 पंचायत भवन मरम्मत के लिए चिह्नित किए गए थे. इनमें से अब तक सिर्फ 52 पंचायत भवनों की ही मरम्मत हो पाई है. जबकि फिरोजाबाद में 66 पंचायत भवन चिह्नित किए थे, इनमे से 60 भवनों का अनुरक्षण हो चुका है. मंडल में मथुरा और मैनपुरी ने लक्ष्य के अनुरूप कार्य पूरा कर लिया है. मथुरा में 42 और मैनपुरी में 64 पंचायत भवन चिह्नित किए गए. इन सभी का मरम्मत कार्य पूरा हो चुका है.

अब तक प्रधान के घर से होता है संचालन
दरअसल अब तक गांवों की सरकार का संचालन अब तक प्रधान के घर से ही होता रहा है. गांव के विकास संबंधी बैठकें हों या पंचायत के दूसरे काम, सभी प्रधान के घर से ही तय होते थे.  लेकिन, अब यह व्यवस्था खत्म करने के निर्देश दिए गए हैं. इसके तहत ग्राम पंचायत सदस्यों की बैठक पंचायत भवन में ही करने के निर्देश दिए गए हैं. इसके लिए सभी ग्राम पंचायतों के पंचायत भवनों का मरम्मत कार्य किया जा रहा है. बता दें कि जल्द ही त्रिस्तरीय पंचायत चुनावों की घोषणा हो सकती है. इसके बाद ग्राम, क्षेत्र और जिला पंचायतों का गठन हो जाएगा. इससे पहले ग्राम पंचायत के भवनों को पूरी तरह ठीक व व्यवस्थित करने के निर्देश दिए गए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज