Agra News: विवाहिता को जिंदा जलाया, बहनों ने चिता से अधजला शव निकाला

शिकायत के मुताबिक, मीरा की मौत के बाद उसके शव को ससुराल पक्ष के लोग गांव से दूर खेतों पर ले गये और उसका अंतिम संस्कार करने लगे.  (सांकेतिक तस्वीर)

शिकायत के मुताबिक, मीरा की मौत के बाद उसके शव को ससुराल पक्ष के लोग गांव से दूर खेतों पर ले गये और उसका अंतिम संस्कार करने लगे. (सांकेतिक तस्वीर)

पुलिस (Police) ने बताया कि पीड़िता के मायके वालों की तरफ से दी गई शिकायत में आरोप लगाया गया है कि मीरा की शादी को 15 साल हो गए थे लेकिन कोई संतान नहीं थी.

  • Share this:
आगरा. आगरा (Agra) के डौकी थाना क्षेत्र के पैतीखेड़ा गांव (Paitikheda Village) में संतान नहीं होने पर ससुराल पक्ष के लोगों द्वारा एक महिला को जिंदा जलाने (Burn Alive) का आरोप लगा है.  पुलिस की तरफ से यह जानकारी दी गई है. पुलिस ने बताया कि पीड़िता के मायके वालों की तरफ से दी गई शिकायत में आरोप लगाया गया है कि मीरा की शादी को 15 साल हो गए थे लेकिन कोई संतान नहीं थी. जिससे ससुराल वाले नाराज थे. मायके वालों का आरोप है कि मीरा के पति संतोष और ससुराल पक्ष के अन्य लोगों ने बृहस्पतिवार को मिट्टी का तेल डाल उसे जिंदा जला दिया.

शिकायत के मुताबिक, मीरा की मौत के बाद उसके शव को ससुराल पक्ष के लोग गांव से दूर खेतों पर ले गये और उसका अंतिम संस्कार करने लगे. पुलिस के मुताबिक, मीरा के मायके वालों ने बताया कि उन्हें किसी तरह मामले की सूचना मिली जिसके बाद मीरा की बड़ी बहन सरोज व रेखा और गोलो ने पहुंचकर खेत में जल रही चिता को मिट्टी डालकर बुझाया और मीरा का अधजला शव निकाल लिया.

हत्या का मुकदमा दर्ज कर जांच की जा रही है

इस बीच पुलिस को सूचना दी गयी जिसके बाद मौके पर थाना डौकी पुलिस पहुंच गयी. पुलिस ने शव का पंचनामा भरवाकर उसे पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. इस संबंध में थाना डौकी प्रभारी अशोक कुमार ने बताया कि मायके वालों ने ससुराल पक्ष के लोगों के खिलाफ हत्या की तहरीर दी है जिसके आधार पर उनके खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर जांच की जा रही है. वहीं, इस घटना से आसपास के इलाके में सनसनी फैल गई है. हर कोई इस घटना के बारे में बातें कर रही है. ऐसे भी उत्तर प्रदेश में इन दिनों अपराध के मामले बढ़ गए हैं. प्रदेश में आए दिन इस तरह घटनाएं आती रहती हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज