आगरा पुलिस का खुलासा: ट्रांसपोर्ट गोदाम को खाली कराने के लिए कराया गया ब्लास्ट, 9 गिरफ्तार
Agra News in Hindi

आगरा पुलिस का खुलासा: ट्रांसपोर्ट गोदाम को खाली कराने के लिए कराया गया ब्लास्ट, 9 गिरफ्तार
आगरा पुलिस ने गोदाम में ब्लास्ट कराने के मामले में 9 लोगों को गिरफ्तार किया है.

आगरा (Agra) के एसएसपी बबलू कुमार का कहना है कि इस ब्लास्ट के बाद पुलिस ने अलग-अलग नजरिए से तफ्तीश की. तब जाकर इस साजिश का पर्दाफाश हुआ. इस खुलासे के लिए एटीएस और तमाम टीमों की मदद ली गई.

  • Share this:
आगरा. उत्तर प्रदेश के आगरा (Agra) में गोदाम में हुए ब्लास्ट (Blast) का पुलिस ने खुलासा कर दिया है. पुलिस ने इस मामले में 9 लोगों को गिरफ्तार किया है. दरअसल 19 जुलाई को ट्रांसपोर्ट के गोदाम में तेज धमाका हुआ था. इस धमाके की वजह से गोदाम की दीवार और छत उड़ गई थी. गोदाम में ब्लास्ट का यह मामला थाना छत्ता क्षेत्र में हुआ था.

मास्टरमाइंड निकला रज्जो जैन

इस ब्लास्ट के बाद पुलिस लगातार छानबीन में जुटी थी कि आखिरकार गोदाम में ब्लास्ट किसने और क्यों किया है? पुलिस ने इस मामले में खुलासा किया तो पता चला कि गोदाम को खाली कराने के लिए ब्लास्ट किया गया था. इस ब्लास्ट का असली मास्टरमाइंड रज्जो जैन था. ट्रांसपोर्ट के गोदाम पर कुलदीप सोढ़ी का कब्जा है और इस गोदाम को एक पक्ष ने दूसरे पक्ष को बेच दिया था. इस खरीद-फरोख्त में बिचौलिए की भूमिका रज्जो जैन ने निभाई थी.



गोदाम खाली कराने के लिए रची ब्लास्ट की साजिश
जिस पक्ष ने गोदाम खरीदा था, उसने शर्त रखी के गोदाम खाली करवाया जाए क्योंकि वह बैनामा करा चुका है. रज्जू जैन ने गोदाम खाली कराने की हामी भी भरी थी. रज्जू जैन ने गोदाम खाली करने के तमाम हथकंडे अपनाए लेकिन वह कामयाब नहीं हो पाया और उसने साजिश रची कि गोदाम में ब्लास्ट कराया जाए ताकि कब्जा धारक कुलदीप सोढ़ी गोदाम छोड़कर भाग जाए. रज्जू जैन ने अपने दो साथियों से मिलकर पहले गोदाम में देसी बम रखवाया बाद में एक साथी गोदाम में गया और आग लगाकर भाग आया. बम में सुतली थी लिहाजा बम थोड़ी देर के बाद ब्लास्ट हुआ.

9 लोग गिरफ्तार किए गए: एसएसपी

आगरा के एसएसपी बबलू कुमार का कहना है कि इस ब्लास्ट के बाद पुलिस ने अलग-अलग नजरिए से तफ्तीश की. तब जाकर इस साजिश का पर्दाफाश हुआ.  इस खुलासे के लिए एटीएस और तमाम टीमों की मदद ली गई. पुलिस ने इस पूरी साजिश में शामिल 9 लोगों को गिरफ्तार करके जेल की सलाखों के पीछे भेज दिया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज