आगरा के छात्र की चीन में मौत, 13 दिन बाद शव पहुंचा गांव

यूपी के आगरा का रहने वाला एक छात्र की चीन में मौत हो गई थी और गुरुवार को 13 दिन के बाद शव उसके गांव पहुंचा है. इस छात्र की मौत एक एक्सीडेंट में हुई थी.

Ashwani Mishra | ETV UP/Uttarakhand
Updated: October 22, 2015, 8:28 PM IST
आगरा के छात्र की चीन में मौत, 13 दिन बाद शव पहुंचा गांव
यूपी के आगरा का रहने वाला एक छात्र की चीन में मौत हो गई थी और गुरुवार को 13 दिन के बाद शव उसके गांव पहुंचा है. इस छात्र की मौत एक एक्सीडेंट में हुई थी.
Ashwani Mishra | ETV UP/Uttarakhand
Updated: October 22, 2015, 8:28 PM IST
यूपी के आगरा का रहने वाला एक छात्र की चीन में मौत हो गई थी और गुरुवार को 13 दिन के बाद शव उसके गांव पहुंचा है. इस छात्र की मौत एक एक्सीडेंट में हुई थी.

दरअसल, आगरा के सराय गांव का रहने वाले कमल कुमार ने 28 नवंबर 2014 को चीन के बीजिंग शहर में ताइसान मेडिकल यूनिवर्सिटी में मेडिकल की पढ़ाई के लिए एडमिशन लिया था. पढ़ाई के दौरान कमल का चीन से आना-जाना लगा रहता था. साथ ही परिजनों से मृतक छात्र फोन पर बातचीत भी होती रहती थी.

इसी महीने की 11 तारीख को कमल की घरवालों से फोन पर बात हुई. उसके बाद उससे कोई संपर्क नहीं हो पाया. दो दिन बाद खबर लगी कि कमल के साथ एक सड़क हादसा हो गया है. लिहाजा उसकी हालत बेहद नाजुक है और अस्पताल में भर्ती करा दिया है. इसी महीने की 19 तारीख को चीन से कमल की मौत की खबर आ गई.

मृतक छात्र के शव को चीन ने बिना पोस्टमार्टम कराए ही उसके गांव भेज दिया है. वतन वापस आए छात्र के शव को देखकर परिजनों में हाहाकार मच गया. इस बीच मृतक छात्र के शव को देखकर घरवालों का आरोप है कि कमल की मौत हादसे में नहीं हुई है.

छात्र कमल की मौत को संदिग्ध मानते हुए परिजनों ने घटना के पीछे किसी बड़ी साजिश की अंदेशा जताया है. छात्र के शव को बिना पोस्टमार्ट कराए ही शव को भारत उसके गांव भेजने से आक्रोशित लोगों ने छात्र के शव को आगरा जयपुर हाइवे पर रख कर जाम लगा दिया. काफी देर की मशक्कत के बाद जाम को खुलवाया गया.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए आगरा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 22, 2015, 8:28 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...