होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /UP: ताजमहल के 500 मीटर के दायरे में नहीं होंगी कॉमर्शियल एक्टिविटी, दुकानदारों का छलका दर्द

UP: ताजमहल के 500 मीटर के दायरे में नहीं होंगी कॉमर्शियल एक्टिविटी, दुकानदारों का छलका दर्द

Agra News: स्थानीय व्यापारियों का कहना है कि वह सदियों से ताजमहल के समीप अपने पुरखों के कारोबार को आगे बढ़ाते आ रहे हैं ...अधिक पढ़ें

रिपोर्ट: हरि कांत शर्मा

आगराः ताजमहल के 500 मीटर के दायरे में किसी भी प्रकार की कॉमर्शियल एक्टिविटी को बंद करने के फैसले को लेकर ताजगंज वासियों के चेहरे पर चिंता साफ देखी जा सकती है. सवाल रोजी-रोटी से जुड़ा है. यही वजह है कि अब ताजगंज बाती लामबंद होकर सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाएंगे.आपको बता दें, बीते दिनों सुप्रीम कोर्ट ने ताजमहल के 500 मीटर के दायरे में आने वाले सभी प्रकार की दुकानों, होटल, रेस्त्रां यानी कि व्यवसाय कामों पर रोक लगाने का आदेश जारी किया है.

आगरा विकास प्राधिकरण का सर्वे शुरू
सुप्रीम कोर्ट ने आगरा विकास प्राधिकरण को आर्डर जारी किया है. कोर्ट ने कहा है कि वह जल्द ताजमहल के 500 मीटर के दायरे में आने वाले सभी कमर्शियल एक्टिविटीज का सर्वे करें. इसको लेकर आगरा विकास प्राधिकरण ने अपना सर्वे शुरू कर दिया है. सर्वे के साथ ही स्थानीय कारोबारी में खलबली मची हुई है. लोग अखबारों की सुर्खियों पर नजर गड़ाए हुए हैं.

पुरखों का धंधा, अब कहां जाएंगे?
स्थानीय व्यापारियों का कहना है कि वह सदियों से ताजमहल के समीप अपने पुरखों के कारोबार को आगे बढ़ाते आ रहे हैं. ताजमहल के आसपास घनी आबादी है और 500 मीटर के दायरे में लगभग 20,000 से ज्यादा लोगों का व्यवसाय जुड़ा हुआ है. ऐसे में अगर सुप्रीम कोर्ट यहां से कमर्शियल एक्टिविटीज को बंद कर देता तो हम लोगों के सामने रोजगार व रोजी-रोटी का बड़ा संकट खड़ा होगा. अगर काम धंधा बंद हुआ, तो उनके पास कोई दूसरा काम नहीं होगा. जिससे वह अपना घर चला सके.

खटखटाएंगे सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा
स्थानीय व्यापार कमेटी के लोग अब लामबंद हो रहे हैं. चंदा इकट्ठा किया जा रहा है और सभी एक बार फिर से सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाएंगे. उसको लेकर बैठकों का दौर जारी है. आगरा के कुत्ता पार्क में व्यापारियों की मीटिंग हो रही है.

मीटिंग में तय किया जा रहा है कि कोर्ट के फैसले से घबराए नहीं. सभी मिलकर सुप्रीम कोर्ट जाएंगे. सुप्रीम कोर्ट हमारे साथ न्याय करेगा.

Tags: Agra news, Agra taj mahal, CM Yogi, Supreme court of india, Taj mahal, UP news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें