Home /News /uttar-pradesh /

आगरा:-ताज महल की टिकट विंडो खुली,लेकिन बढ़ गई पर्यटकों के लिए परेशानी

आगरा:-ताज महल की टिकट विंडो खुली,लेकिन बढ़ गई पर्यटकों के लिए परेशानी

165

165 दिन के बाद खुली ताज महल की टिकट खिड़की !

165 दिनों के बाद ताजमहल पर ऑफलाइन टिकट विंडो खोल दी गई है.उम्मीद थी कि पर्यटकों को काफी सहूलियत मिलेगी.लेकिन व्यवस्थाएं पूरी तरह से फेल हैं.अब तक पर्यटक एएसआई की तरफ से लगाए गए क्यूआर स्कैनर से ऑनलाइन टिकट बुक करते थे .देश में कोविड-19 आया और कोविड-19 के बाद से ताजमहल को बंद रखा गया था.

अधिक पढ़ें ...

    165 दिनों के बाद ताजमहल पर ऑफलाइन टिकट विंडो खोल दी गई है.उम्मीद थी कि पर्यटकों को काफी सहूलियत मिलेगी.लेकिन व्यवस्थाएं पूरी तरह से फेल हैं.अब तक पर्यटक एएसआई की तरफ से लगाए गए क्यूआर स्कैनर से ऑनलाइन टिकट बुक करते थे .देश में कोविड-19 आया और कोविड-19 के बाद से ताजमहल को बंद रखा गया, जैसे ही हालात ठीक हुए एक बार फिर से ताजमहल के दीदार के लिए पर्यटक आने लगे.लेकिन इस बार ताज महल की टिकट खरीदने की व्यवस्था को ऑनलाइन कर दिया गया.जगह-जगह क्यूआर स्कैनर कोड लगा दिए गए.लेकिन पर्यटकों को टिकट बुक करने के दौरान बेहद दिक्कतों का सामना करना पड़ता है.

    टिकट बुक करने की ऑनलाइन प्रक्रिया है बेहद जटिल, एजेंट उठाते हैं फायदा
    देश में कोविड-19 की दस्तक के बाद 2 महीने तक ताजमहल बंद रखा गया.16 जून को ताजमहल को पर्यटकों के लिए खोल दिया गया.लेकिन टिकट की व्यवस्था ऑनलाइन थी. जो लोग फोन का ठीक से इस्तेमाल नहीं कर पाते थे और कम पढ़े लिखे पर्यटकों को ऑनलाइन टिकट बुक करने में बेहद समस्याओं का सामना करना पड़ता था.इसके अलावा टिकट बुक करने का प्रोसेस बेहद जटिल था.कई बार इंटरनेट का कनेक्शन भी अच्छा नहीं होता था.जिसकी वजह से पर्यटक टिकट बुक नहीं कर पाते थे.वहां पर घूमने वाले दलाल इस मौके का फायदा उठाकर पर्यटकों को ऊंचे दामों पर ब्लैक में टिकट बेचते थे.

    ताजमहल के पूर्वी और पश्चिमी गेट पर एक एक टिकिट विंडो खोली गई है पर्यटकों की लगी है लंबी लंबी कतारें
    एएसआई ने ताजमहल के पूर्वी व पश्चिमी गेट पर एक एक टिकट विंडो खोल दी है.जिस पर पर्यटकों की लंबी-लंबी कतारें लगी हुई हैं. एक ही लाइन में महिला व पुरुष दोनों टिकट ले रहे हैं.जिसकी वजह से पर्यटकों को बेहद दिक्कतों का सामना करना पड़ता है. रेलिंग को फलान कर पर्यटक टिकट लेने के बाद निकलते हैं .ऐसे में बड़ा सवाल उठता है कि ऑनलाइन टिकट बुक करने की प्रोसेस को बताने के लिए कोई भी कर्मचारी मौके पर मौजूद नहीं है. ताजमहल परिसर के अंदर बड़ी तादाद में फर्जी गाइड घूमते रहते हैं.जो ब्लैक में पर्यटकों को टिकट देते हैं. लेकिन ऐसे लोगों पर एसआई की तरफ से कोई भी कार्यवाही नहीं होती और इसका खामियाजा आगरा की छवि को धूमिल हो कर चुकाना पड़ता है .

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर