Pollution Alert: देश के 5 सबसे प्रदूषित शहरों में से 3 यूपी के, आगरा टॉप पर

आगरा की हवा सबसे जहरीली
आगरा की हवा सबसे जहरीली

Pollution Alert: शीर्ष पांच प्रदूषित शहरों में उत्तर प्रदेश के तीन जिले शामिल हैं. आगरा के अलावा गाजियाबाद और ग्रेटर नोएडा में भी हवा की गुणवत्ता बेहद भेद खतरनाक है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 9, 2020, 1:47 PM IST
  • Share this:
आगरा. सर्दी की शुरुआत के साथ ही लोगों को जहरीली हवा (Air Pollution) का सामना करना पड़ रहा है. वायु प्रदूषण की स्थिति दिल्ली-एनसीआर के साथ ही उत्तर प्रदेश के कई शहरों में खतरनाक स्तर पर है. आलम यह है कि जहरीली हवा में लोगों का सांस लेना भी दूभर हो गया है. चारों तरफ धुंध की मोटी चादर छाई दिख रही है, जिससे लोगों को आंखों में जलन और सांस लेने में दिक्कत हो रही है. सोमवार को ताज नगरी आगरा देश का सबसे प्रदूषित शहर रहा. आगरा में एयर क्वालिटी इंडेक्स (AQI) 458 रिकॉर्ड किया गया, जबकि हवा में कार्बन मोनोऑक्साइड की मात्रा भी 50 गुना ज्यादा दर्ज की गई.

शीर्ष पांच प्रदूषित शहरों में उत्तर प्रदेश के तीन जिले शामिल हैं. आगरा के अलावा गाजियाबाद और ग्रेटर नोएडा में भी हवा की गुणवत्ता बेहद भेद खतरनाक है. गाजियाबाद आगरा के बाद देश में दूसरा सबसे ज्यादा प्रदूषित शहर रहा. यहां एक्यूआई 456 दर्ज की गई जबकि ग्रेटर नोएडा में 440. राजधानी लखनऊ भी लगातार तीसरे दिन लाल निशान के ऊपर रहा. यहां एक्यूआई 392 दर्ज की गई.





पराली को माना जा रहा मुख्य वजह
दिल्ली-एनसीआर समेत यूपी में प्रदूषण के पीछे की मुख्या वजह पराली जलाने को माना जा रहा है. एक अनुमान के मुताबिक वायु प्रदूषण के पीछे 29 फ़ीसदी हिस्सा पराली जलने से निकले धुंए की वजह से है.

लोगों को हो रही यह दिक्कत
प्रदूषण की वजह से लोगों को आंखों में जलन के साथ ही सांस लेने में दिक्कत हो रही है. डॉक्टरों को सलाह है कि बुजुर्ग, बच्चे और सांस के रोगी जितना हो सके घरों में ही रहें. अगर बाइक पर निकल रहे हों तो चश्मे का प्रयोग जरूर करें. बिना मास्क बाहर न निकलें. विशेषज्ञों की मानें तो अगर इस पर नियंत्रण नहीं किया गया तो दिवाली के बाद स्थिति भयावह हो सकती है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज