आगरा ट्रिपल मर्डर: पुलिस मुठभेड़ में गोली लगने से घायल हुआ तीसरा आरोपी गजेंद्र
Agra News in Hindi

आगरा ट्रिपल मर्डर: पुलिस मुठभेड़ में गोली लगने से घायल हुआ तीसरा आरोपी गजेंद्र
घायल बदमाश गजेंद्र का किया गया इलाज

Agra Triple Murder Case: थाना एत्माउद्दौला इलाके में पति, पत्नी और बेटे की बेरहमी से हत्या हुई थी. तीनों की हत्या पड़ोस में रहने वाले सुभाष उसके दोस्त वकील और भाई गजेंद्र ने की थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 2, 2020, 7:37 AM IST
  • Share this:
आगरा. ताज नगरी आगरा (Agra) में हुए तिहरे हत्याकांड (Triple Murder) के तीसरे आरोपी के साथ बुधवार सुबह पुलिस (Police) की मुठभेड़ (Encounter) हुई. मुठभेड़ में बदमाश गजेंद्र (Criminal Gajendra) के पैर में गोली लगी है. गंभीर रूप से घायल बदमाश को इलाज के लिए जिला अस्पताल में एडमिट कराया गया है. मुठभेड़ थाना छत्ता इलाके में उस वक्त हुई  जब गजेंद्र अपनी बाइक से भाग रहा था.पुलिस ने उसको रोकने की कोशिश की लेकिन गजेंद्र ने पुलिस पर फायरिंग शुरू कर दी. पुलिस ने भी जवाबी फायरिंग की तो गजेंद्र के पैर में गोली लग गई और उस को गिरफ्तार कर लिया गया.

बता दें थाना एत्माउद्दौला इलाके में पति, पत्नी और बेटे की बेरहमी से हत्या हुई थी. तीनों की हत्या पड़ोस में रहने वाले सुभाष उसके दोस्त वकील और भाई गजेंद्र ने की थी. हत्या के बाद पुलिस ने सुभाष और उसके दोस्त वकील को मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार कर लिया था. तीसरा आरोपी गजेंद्र लगातार फरार चला था. लिहाजा पुलिस ने 48 घंटे के अंदर तीसरे आरोपी गजेंद्र को भी मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार कर लिया.  आरोपी गजेंद्र के पास से तमंचा और कारतूस भी मिले हैं. इस मुठभेड़ के दौरान एक इंस्पेक्टर गिरने से घायल भी हो गए.

मुख्य आरोपी बोला तीन लाख उधार न लौटाने पर की हत्या



पत्नी और बेटे के साथ परचून दुकानदार रामवीर की हत्या का खुलासा पुलिस ने कर दिया. बता दें खुलासे की कमान एसपी सिटी रोहन पी बोत्रे ने खुद संभाली थी. जिसके बाद मंगलवार सुबह हुए मुठभेड़ में सुभाष और वकील को गिरफ्तार किया. पुलिस के मुताबिक बदमाश सुभाष के 3 लाख रुपए रामवीर पर उधार  थे. रुपए वापस न करने पर रामवीर, उसकी पत्नी और बेटे की हत्या कर शव को जला दिया गया था.  मुख्य आरोपी सुभाष ने अपराध स्वीकार करते हुए कहा कि कैसे उसने अपने भाई और दोस्त के साथ मिलकर तीन लोगों की हत्या की. एसएसपी बबलू कुमार के मुताबिक उसने तीन लाख रूपये रामवीर को उधर दिए थे. पैसे लौटाने में आनाकानी करने पर उसने रामवीर और उसके बेटे बबलू को घर बुलाया. उसके बाद दोनों की गला दबाकर हत्या कर दी. इसके बाद दोनों के शव को उनके घर ले जाकर पत्नी की भी हत्या कर दी और फिर घर में पड़े नगदी व जेवरात लूटने के बाद सभी शवों को केरोसिन तेल डालकर आग लगा दी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज