• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • Agra university:- आगरा विश्वविद्यालय बना समस्याओं का गढ़ लगभग 80 हजार छात्र फ़ेल

Agra university:- आगरा विश्वविद्यालय बना समस्याओं का गढ़ लगभग 80 हजार छात्र फ़ेल

आगरा

आगरा यूनिवर्सिटी में प्रदर्शन करते छात्र-छात्राएं

आगरा विश्वविद्यालय समस्याओं का गढ़ बन चुका है. आगरा विश्वविद्यालय में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद,एनएसयूआई,सपा छात्र महासभा तीनों मिल कर अनिश्चितकालीन धरना दे रहे हैं. धरने का तीसरा दिन है लेकिन अभी तक छात्रों की कोई भी सुनवाई नहीं हुई है .

  • Share this:

    आगरा विश्वविद्यालय समस्याओं का गढ़ बन चुका है. आगरा विश्वविद्यालय में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद,एनएसयूआई ,सपा छात्र महासभा तीनों ने मिलकर अनिश्चितकालीन धरना दे रहे है. धरने का तीसरा दिन है लेकिन अभी तक छात्र नेताओं को छात्रों की सुनवाई नहीं हुई है .कोई भी अधिकारी छात्रों से मिलने को तैयार नहीं है .छात्र ऐसी गर्मी में लगातार तीन दिन से विश्वविद्यालय परिसर में ही डटे हुए हैं .जमकर दिन भर विश्वविद्यालय प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करते हैं .लेकिन अधिकारियों के कान पर जूं तक नहीं रेंगती .

    दरसल पूरा मामला क्या है आपको यह बता देते हैं
    वैसे तो सभी छात्र नेताओं के आरोप समान है.अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की तरफ से कहना है कि आगरा यूनिवर्सिटी ने हाल ही में परीक्षा परिणाम घोषित किया है.छात्रों का आरोप है कि ऐसे लगभग 90 हजार छात्र हैं जो बिना किसी कारण के यूनिवर्सिटी की तरफ से एमडब्ल्यू आरडब्ल्यू ,बीएमडब्ल्यू मार्कशीट में अंकित है. इसके साथ ही सपा छात्र संशोधित परिणाम घोषित करने के साथ पूर्व की भांति ग्रेस प्रणाली लागू करने की मांग पर अड़े हुए हैं. तीनों छात्र संगठन लगातार अनिश्चितकालीन धरने पर बैठे हुए हैं.

    मामले पर विश्वविद्यालय प्रशासन ने दी सफाई गठित की कमेटी
    कुलपति के आदेश पर परीक्षा नियंत्रक अजय कृष्ण यादव की ओर से 5 सदस्यों की समिति बनाई गई है. इसमें 3 छात्र कल्याण, चीफ प्रॉक्टर ,आरबीएस कॉलेज के प्राचार्य ,कोसी मथुरा के प्राचार्य, सहायक कुलसचिव परीक्षा इनको छात्र-छात्राओं की मांग के संबंध में 2 सप्ताह के अंदर रिपोर्ट देनी होगी .

    हरिकांत शर्मा की रिपोर्ट

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज