• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • Agra: उत्तराखंड के राज्यपाल पद से इस्तीफा देनेवाली बेबी रानी मौर्य ने कहा- यूपी में BJP को थी मेरी जरूरत

Agra: उत्तराखंड के राज्यपाल पद से इस्तीफा देनेवाली बेबी रानी मौर्य ने कहा- यूपी में BJP को थी मेरी जरूरत

उत्तराखंड राज्यपाल पद छोड़ने वाली बेबी रानी मौर्य ने कहा कि यूपी में बीजेपी को मेरी जरूरत थी.

उत्तराखंड राज्यपाल पद छोड़ने वाली बेबी रानी मौर्य ने कहा कि यूपी में बीजेपी को मेरी जरूरत थी.

Baby Rani Maurya: उत्तराखंड की राज्यपाल पद से इस्तीफा देने वाली बेबी रानी मौर्य ने कहा कि बीजेपी को उनकी जरूरत थी. वह राज्यपाल पद से त्यागपत्र देकर राजनीति में सक्रिय हुई हैं. वह पूरे यूपी का दौरा करेंगीं. दलितों के बीच जीएंगी.

  • Share this:

आगरा. उत्तराखंड की राज्यपाल पद से इस्तीफा देने वाली बेबी रानी मौर्य (Baby Rani Maurya) ने अपने आवास पर कहा कि भारतीय जनता पार्टी को उनकी जरूरत थी, इसलिए वह राज्यपाल पद से त्यागपत्र देकर राजनीति में सक्रिय हुई हैं. उत्तराखंड की पूर्व राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ने कहा सक्रिय राजनीति में आने के लिए उन्होंने इस्तीफा दिया. बेबी रानी मौर्य ने कहा कि उत्तर प्रदेश के सभी 75 जिलों में भाजपा संगठन ने उनका कार्यक्रम लगाया है. प्रत्येक जिले में जाकर के वह अनुसूचित समाज के लोगों को मिशन 2022 में सक्रिय भागीदारी के लिए जागरूक करेंगी.

बेबी रानी मौर्य ने कहा कि भाजपा ने उन्हें राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनाकर अहम जिम्मेदारी दी है, जिसमें वह अपना 100 फीसदी योगदान देने का कार्य करेंगी. बहुत जल्द प्रदेश के सभी जिलों में दौरा किया जाएगा. कार्यकार्ताओं और जनता के बीच पहुंचकर बीजेपी संगठन को मजबूत बनाने में अपना योगदान देंगी.

कहीं नहीं दिखता विपक्ष

भाजपा राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बेबी रानी मौर्य ने अपने आगरा स्थित आवास पर कहा की विपक्ष अब कहीं नहीं दिखता है. विपक्ष को देश की जनता पूरी तरह से समझ चुकी है. भाजपा की केंद्र सरकार और प्रदेश सरकार ने इतने सारे जनहितकारी कार्य किए हैं कि उत्तर प्रदेश में 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव में जनता बीजेपी के साथ रहेगी.

दलितों के लिए काम करना है

बेबी रानी मौर्य ने कहा कि वह लगातार सामाजिक एवं राजनीतिक कार्यक्रमों में सक्रिय बनी हुई हैं और बहुत जल्द प्रदेश के सभी जिलों में दौरा करके बीजेपी संगठन को मजबूत बनाने में अपना योगदान देंगी. उत्तराखंड की पूर्व राज्यपाल बेबी रानी मौर्या ने यहां भी कहा कि मेरी कोई महत्वाकांक्षा नहीं है. भारतीय जनता पार्टी जो कहेगी उस आदेश का पालन करूंगी. बेबीरानी मौर्य ने कहा कि दलित वर्ग के लोगों के लिए उन्हें काम करना है. बेबीरानी मौर्य ने कहा कि वह 2022 में होने वाले उत्तर प्रदेश विधानसभा का चुनाव का नहीं लड़ेंगी. पार्टी जो कहेगी वही करूंगी.

खत्म हो जाएगा किसान आंदोलन

किसान आंदोलन को लेकर के उत्तराखंड की पूर्व राज्यपाल बेबी रानी ने कि आंदोलन पंजाब से शुरू हुआ था और वहीं किसान आंदोलन खत्म हो जाएगा. उन्होंने कहा कि जो किसान वोटर हैं वह भारतीय जनता पार्टी के साथ हैं. बीजेपी की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बेबीरानी ने कहा कि कैप्टन अमरिंदर सिंह के इस्तीफे के बाद आंदोलन में शामिल किसान अब हताश निराश है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज