कोरोना संक्रमित मरीजों को बड़ी राहत, ताजनगरी आगरा में पहुंची 8 टन लिक्विड ऑक्सीजन

कोरोना संक्रमण से जूझ रहे आगरा में 8 टन लिक्विड ऑक्सीजन की खेप पहुंच गई है.

कोरोना संक्रमण से जूझ रहे आगरा में 8 टन लिक्विड ऑक्सीजन की खेप पहुंच गई है.

Agra News: कोरोना संक्रमण से जूझ रहे आगरा में ऑक्सीजन की जबरदस्त मांग के बीच देश के विभिन्न शहरों से लगातार सरकार के निर्देश पर ऑक्सीजन की आपूर्ति हो रही है. 1 दिन पहले जमशेदपुर से 10 मीट्रिक टन ऑक्सीजन लेकर टैंकर आगरा पहुंचा था.

  • Share this:
आगरा. उत्तर प्रदेश के आगरा (Agra) में कोरोनाकाल की आपदा में हर दिन 500 से ज्यादा नए कोरोना मरीज सामने आ रहे हैं. ज्यादातर हॉस्पिटल के बेड फुल होते जा रहे हैं. ऐसे में ताज नगरी पहुंची 8 टन लिक्विड ऑक्सीजन (Liquid Oxygen) से बड़ी राहत मिली है. दरअसल यहां ऑक्सीजन की जबर्दस्त डिमांड है. गुरुवार रात कुछ हॉस्पिटल्स ने ऑक्सीजन संकट (Oxygen Crisis) की बात से प्रशासन को अवगत कराया था. इसके बाद डीएम के आदेश पर कई एसडीएम की टीम सिलसिलेवार ढंग से प्राइवेट कोविड हॉस्पिटल्स में ऑक्सीजन की कमी को लेकर के जानकारी करती रही. जहां-जहां ऑक्सीजन की किल्लत थी, वहां तत्काल प्रशासन ने ऑक्सीजन की व्यवस्था कराई.

आगरा के अमित जग्गी हॉस्पिटल में ऑक्सीजन के संकट को लेकर के डीएम को लेटर भी लिखा था. इस हॉस्पिटल को भी तत्काल ऑक्सीजन उपलब्ध करा दी गई. ऑक्सीजन की जबरदस्त मांग के बीच देश के विभिन्न शहरों से लगातार सरकार के निर्देश पर आगरा में ऑक्सीजन की आपूर्ति हो रही है. 1 दिन पहले आधी रात को जमशेदपुर से 10 मीट्रिक टन ऑक्सीजन लेकर टैंकर आगरा पहुंचा था, जिससे सांसों का संकट टल गया था. अब अलग-अलग स्थानों से लगातार ऑक्सीजन मंगाने के प्रयास में प्रशासन जुटा हुआ है.

प्रशासन ने ली राहत की सांस

नोएडा से एसएन मेडिकल कॉलेज के लिए ऑक्सीजन आई. इसके अलावा आज 8 टन लिक्विड ऑक्सीजन फिर आगरा पहुंची है. आज आई ऑक्सीजन के बारे में आगरा के डीएम प्रभु एन सिंह ने बताया कि 8 टन लिक्विड आक्सीजन बांके बिहारी पर पहुंच गई है, जो हमें अलॉटमेन्ट आता है. कुछ हमारे पास अलॉटमेंट मोदीनगर से है, कुछ पानीपत से भी अलॉटमेंट है. टैंकर आ गया यहां से, सप्लाई स्टार्ट हो रही है. अभी जो कमी हुई है, हमारे प्राइवेट हॉस्पिटल में, वहां आक्सीजन की सप्लाई हो जाएगी.
'आगरा में पर्याप्त है ऑक्सीजन'

डीएम ने कहा कि जहां तक एसएन मेडिकल कालेज की बात है, वहां पर हमारे पास आक्सीजन की कमी नहीं है. मेडिकल कॉलेज में टैंकर खड़ा है और जरूरत के हिसाब से टैंकर में आक्सीजन भरा जा रहा है. एसएनएमसी में 10 हजार किलोलीटर का आक्सीजन टैंकनिजी कोविड हास्पिटलों में आगरा में आक्सीजन की आपूर्ति करने के बाद शेष लिक्विड आक्सीजन के टैंकर को एसएन मेडिकल कालेज लाया गया. लिक्विड आक्सीजन से एसएन का 10 हजार किलोलीटर क्षमता वाला आक्सीजन टैंक भरा गया. इसके साथ ही SN मेडिकल कॉलेज में आक्सीजन की पर्याप्त उपलब्धता हो गयी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज