• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • जिन्होंने 55 वर्षों तक देश में शासन किया, उनका स्वास्थ्य इंफ्रास्ट्रक्चर पर कभी ध्यान नहीं रहा: CM योगी

जिन्होंने 55 वर्षों तक देश में शासन किया, उनका स्वास्थ्य इंफ्रास्ट्रक्चर पर कभी ध्यान नहीं रहा: CM योगी

55 साल तक देश पर राज करने वालों का हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर पर नहीं रहा ध्यान-सीएम योगी

55 साल तक देश पर राज करने वालों का हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर पर नहीं रहा ध्यान-सीएम योगी

सीएम योगी (CM Yogi) ने कहा कि मार्च 2020 में आगरा में कोरोना का पहला केस आया था, तब एक भी लैब प्रदेश में नहीं थी. यहां मेडिकल कॉलेज में भर्ती करने की भी सुविधा नहीं थी.

  • Share this:

आगरा/लखनऊ. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने देश और प्रदेश में हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर को लेकर कांग्रेस और समाजवादी पार्टी का बिना नाम लिए करारा हमला किया. उन्होंने कहा कि जिस देश ने आजादी के तत्काल बाद से लगातार स्वास्थ्य की आपदा झेली हो, लेकिन स्वास्थ्य इंफ्रास्ट्रक्चर पर पिछली सरकारों और जिन लोगों ने 55 वर्षों तक देश के अंदर शासन किया, प्रदेश में सर्वाधिक दिनों तक शासन किया, उनका प्रदेश और देश के स्वास्थ्य इंफ्रास्ट्रक्चर पर ध्यान कभी नहीं रहा. सीएम योगी ने कहा कि वैक्सीन के लिए तमाम प्रकार से गुमराह करने का प्रयास हो रहा है.

यह बातें उन्होंने आगरा में चिकित्सक (कोरोना वारियर्स) सम्मेलन में कहीं. उन्होंने कहा कि प्रदेश में 1947 से लेकर 2017 तक 69 वर्षों में केवल 12 मेडिकल कॉलेज बने थे, लेकिन 2017 से लेकर 2021-22 तक हम 33 नए मेडिकल कॉलेज की स्थापना कर रहे हैं. हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर में यह चेंज और इस जज्बे ने कोरोना जैसी महामारी के सामने जब अमेरिका जैसी बड़ी-बड़ी ताकतें और यूरोप जैसे विकसित देश पस्त होते दिखाई दे रहे थे, तब भारत मजबूती के साथ इस महामारी से लड़ते हुए दिखाई दे रहा था.

तीसरी लहर की पहले से की तैयारी
सीएम योगी ने कहा कि मार्च 2020 में आगरा में कोरोना का पहला केस आया था, तब एक भी लैब प्रदेश में नहीं थी. यहां मेडिकल कॉलेज में भर्ती करने की भी सुविधा नहीं थी. भारत सरकार के सहयोग से आज प्रदेश चार लाख टेस्ट रोजाना करने की क्षमता विकसित कर चुका है. आज हमारे पास दो लाख एल 1, एल 2 और एल 3 फैसेलिटी के बेड हैं. 75 में से 36 ऐसे जिले थे, जहां एक भी आईसीयू बेड नहीं था. आज हर जिले में सौ बेड मौजूद हैं. केवल दूसरी लहर को नियंत्रित ही नहीं किया, बल्कि तीसरी लहर की आहट के बीच में पहले से तैयारी कर ली है.

ऑक्सीजन की नहीं होगी किल्लत
सीएम योगी ने कहा कि महामारी के दौरान संसाधन अकसर कम पड़ते हैं और यह तो सदी की सबसे बड़ी महामारी थी. ऑक्सीजन पहुंचाने का कार्य भारत सरकार ने युद्ध स्तर पर किया था. 552 ऑक्सीजन प्लांट वर्तमान में अलग-अलग जिले में हम लगा रहे हैं, जिसमें से करीब तीन सौ लगा चुके हैं और 252 ऑक्सीजन प्लांट को अगले कुछ दिनों में शुरू करेंगे. ऑक्सीजन की किल्लत न होने पाए, इसकी पूरी तैयारी कर ली गई है. उन्होंने कहा कि कोरोना पूरी तरह नियंत्रण में है, लेकिन कोरोना अभी समाप्त नहीं हुआ है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज