आगरा: प्राइवेट हॉस्पिटल की वजह से बढ़ रहा COVID-19 का संक्रमण, 12 दिन में 128 पॉजिटिव
Agra News in Hindi

आगरा: प्राइवेट हॉस्पिटल की वजह से बढ़ रहा COVID-19 का संक्रमण, 12 दिन में 128 पॉजिटिव
इंदौर में पुलिस कर्मियों के कोरोना संक्रमित होने का सिलसिला लगातार जारी है (प्रतीकात्मक तस्वीर)

सोमवार तक 39 और लोगों के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि होने के साथ ही कोविड-19 (Covid-19) के मरीजों की संख्या बढ़कर 144 हो गयी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 14, 2020, 8:38 AM IST
  • Share this:
आगरा. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के आगरा (Agra) जनपद में कोरोना वायरस (Corona Virus) के संक्रमण की रफ़्तार बढ़ती हुई नज़र आ रही है. जिसमें सोमवार तक 39 और लोगों के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि होने के साथ ही कोविड-19 (Covid-19) के मरीजों की संख्या बढ़कर 144 हो गयी है. आगरा के स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि रविवार लखनऊ, केजीएमयू से मिली जांच रिपोर्ट में 39 नमूने पॉजिटिव (Positive) पाये गए हैं. बता दें कि मार्च तक यहां सिर्फ़ 12 केस थे, लेकिन अप्रैल में शुरुआती 12 दिनों में 128 केस मिलने की खबर है.

एक अख़बार के मुताबिक उत्तर प्रदेश में Covid-19 से सबसे ज्यादा संक्रमित मरीज आगरा में हैं. जिसकी वजह जमाती और उनके सम्पर्क में आए हुए लोग माने जा रहे हैं. वहीं आगरा के 7 ऐसे अस्पताल भी बड़ी वजह माने जा रहे हैं जिनकी वजह से 40 लोग संक्रमित हुए. खबर की मानें तो शहर में भगवान टॉकीज के पास मौजूद प्राइवेट अस्‍पताल एक बड़े एपीसेंटर के रूप में सामने आया है. माना जा रहा है कि यहां के स्‍टाफ ने इस बीमारी का दायरा आसपास के इलाकों तक बड़ा दिया है. अस्‍पताल के एक कर्मचारी ने 8 नए व्‍यक्तियों को संक्रमित कर दिया वहीं अस्पताल के स्टाफ द्वारा संक्रमण का आंकड़ा 20 पर आ गया है.

वहीं स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक पेशे से गाइड फतेहपुर सीकरी का एक युवक कुछ दिन पहले पड़ोसी जनपद मथुरा के अस्पताल में भर्ती हुआ था. उन्होंने बताया कि वहीं के अस्पताल में उसके कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई थी. इस आशय की जानकारी मिलने के बाद युवक के संपर्क में आए सभी लोगों के नमूने लेकर उसे जांच के लिए भेजा गया. प्रशासन ने बताया कि युवक के संपर्क में आए 14 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई है. उन्होंने बताया कि जिन लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आयी है उनमें से आठ का संबंध तबलीगी जमात से जुड़े हैं.




ये भी पढ़ें :

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज