Home /News /uttar-pradesh /

food department team raided at aggrawal food industries in agra dead rats cat defecation found in wheat

हर तरफ बिखरे थे मरे हुए चूहे और बिल्‍ली का मल, इसी गेहूं से फैक्‍ट्री में तैयार हो रहा था आटा

खाद्य विभाग की टीम ने मारा छापा, गेहूं में मिले मरे हुए चूहे (सांकेतिक तस्वीर)

खाद्य विभाग की टीम ने मारा छापा, गेहूं में मिले मरे हुए चूहे (सांकेतिक तस्वीर)

Agra News: उत्तर प्रदेश के आगरा में खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन की टीम ने पीर कल्याणी स्थित अग्रवाल फूड इंडस्ट्रीज पर छापा मारा. इस फैक्‍ट्री में रसोई रतन ब्रांड का आटा तैयार होता है. छापा मारने वाली टीम को गेहूं में सड़े-गले चूहे के अलावा बिल्‍ली का मल भी दिखा. विशेषज्ञों की टीम ने फैक्‍ट्री में मौजूद अनाज के साथ ही आटा और बेसन का सैंपल लेकर उसे जांच के लिए भेजा है.

अधिक पढ़ें ...

आगरा: उत्तर प्रदेश के आगरा में खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन की टीम ने पीर कल्याणी में स्थित अग्रवाल फूड इंडस्ट्रीज (Aggrawal Food Industries) पर छापा मारा. वहां का नजारा हैरान करने वाला था. बता दें कि इसी फैक्‍ट्री में रसोई रतन ब्रांड का आटा तैयार होता है. अधिकारियों को गोदाम में घटिया किस्म का गेहूं मिला. इतना ही नहीं, इसमें सड़े-गले चूहे भी मिले. टीम ने न केवल घटिया किस्म का एक क्विंटल गेहूं नष्ट कराया, बल्कि दलिया और बेसन का नमूना भी जांच के लिए लिया है. फैक्टरी के मालिक को नोटिस भी दिया गया है. खाद्य सुरक्षा विभाग के छापे (Food Department Raid) के बाद से हड़कंप मचा हुआ है.

मंगलवार को एफएसडीए के मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी राम आशीष मौर्य ने टीम के साथ अग्रवाल फ़ूड इंडस्ट्रीज पर छापा मारा था. मौके पर टीम को फैक्टरी के मालिक राजेश अग्रवाल मिले. गेहूं के भंडारण का हाल देखा तो उसमें मरे हुए चूहे मिले. गेहूं में बिल्ली और चूहों के मल बिखरे हुए थे. अधिकारी ने बताया कि चूहा मारने की दवा भी पाई गई.

सेहत के सवाल पर चुप हुआ फैक्टरी मालिक
अधिकारियों के द्वारा जब फैक्टरी मालिक से पूछा कि इसी गेहूं से आटा तैयार करोगे? इस पर उन्होंने बताया कि आधुनिक मशीनें हैं, इसमें से खराब गेहूं मशीन अलग कर देती है. अधिकारी ने फिर पूछा कि चूहे मारने की दवा और मरे चूहों की दुर्गंध को कैसे दूर करोगे? इससे किसी की सेहत पर विपरीत प्रभाव पड़ा तो क्या होगा? इस पर फैक्‍ट्री का मालिक चुप हो गया. हालांकि, टीम ने सैंपल लेकर जांच के लिए भेज दिया है.

100 साल पुराने केदारनाथ श्रीकृष्ण ज्वेलर्स पर आयकर छापे में मिला कुछ ऐसा, अधिकारी भी रह गए हैरान

जहां चूहे मरे थे, उस गेहूं को कराया नष्ट
सिटी मजिस्ट्रेट प्रतिपाल चौहान ने बताया कि छापे के दौरान टीम को गेहूं में मरे हुए चूहे मिले थे. जहां चूहे मरे हुए थे, उस गेहूं को इकट्ठा कर उसे नष्ट करा दिया गया. ये गेहूं लगभग एक क्विंटल होगा. फिलहाल, फैक्टरी में तैयार आटा नहीं था, ऐसे में यहां तैयार हो रहे दलिया और बेसन का नमूना लेकर जांच के लिए भेजा गया है. नोटिस देकर सुधार करने की हिदायत भी दी गई है.

फैक्टरी में मिली गंदगी
सिटी मजिस्ट्रेट ने बताया कि टीम को छापे में गोदाम में भारी गंदगी मिली थी. सीलन थी और जाले लगे हुए थे. साफ-सफाई नहीं थी. गोदाम में 9 कर्मचारी कार्य करते मिले. ये एप्रन और ग्लव्स नहीं पहने हुए थे. संचालक को नोटिस दिया गया है. टीम के द्वारा फैक्टरी का चालान किया गया है और सैंपल भेज दिए गए हैं. रिपोर्ट आने के बाद कार्रवाई की जाएगी.

Tags: Agra news, Uttar pradesh news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर