सूदखोर से परेशान कारीगर ने पत्नी और बच्चों के साथ की खुदकुशी की कोशिश, वायरल हुआ वीडियो

पीड़ित दीपक का परिवार सूदखोर के चंगुल में फंसा हुआ था.
पीड़ित दीपक का परिवार सूदखोर के चंगुल में फंसा हुआ था.

आगरा पुलिस (Agra Police) ने मामला दर्ज कर आरोपी सूदखोर की तलाश शुरू कर दी है. मामला शाहगंज थाने (Police Station) का बताया जा रहा है. ग्यासपुरा निवासी दीपक कुमार जूता कारीगर (Shoes labour) है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 27, 2020, 8:04 PM IST
  • Share this:
आगरा. आगरा (Agra) में सूदखोर से परेशान जूता कारीगर पति ने पत्नी और दो बच्चों के साथ जहर खाकर खुदकुशी (Suicide) की कोशिश की है. खुदकुशी की कोशिश का वीडियो (Video) बनाकर अपने रिश्तेदारों को भी भेज दिया. इत्तेफाक से वीडियो पास में ही रहने वाले कारोबारी के भाई ने भी देख लिया. फौरन ही वह पड़ोसियों संग भाई के घर पहुंच गया. भाई और भाभी को आवाज़ दी, लेकिन कोई जवाब नहीं आया. तुरंत ही मौके पर मौजूद पड़ोसियों ने मिलकर दरवाजा तोड़ दिया.

कमरे के अंदर पीड़ित पति-पत्नी और उनके दो बच्चे बेहोश पड़े हुए थे. आनन-फानन में उन्हें इलाज के लिए अस्पताल (Hospital) में भर्ती करा दिया गया. जहां उनका इलाज चल रहा है. पुलिस (UP Police) ने मामला दर्ज कर आरोपी सूदखोर की तलाश शुरू कर दी है. मामला शाहगंज थाने (Police Station) का बताया जा रहा है.

यह भी पढ़ें- अब इसलिए नहीं दिखाई दे रही हैं JNU छात्र नजीब को शहर-शहर सड़कों पर तलाशने वालीं उनकी मां फातिमा



10 फीसद ब्याज पर उधार लिए थे रुपए
ग्यासपुरा निवासी दीपक कुमार जूता कारीगर है. घरवालों के अनुसार दीपक ने साल भर पहले एक सूदखोर से 1.5 लाख रुपए दस प्रतिशत ब्याज पर उधार लिए थे. LOckdown में काम बंद होने से ब्याज नहीं दे पाया. सूदखोर और उसके गुर्गे प्रतिदिन दरवाजे पर आकर धमकाने लगे. कई बार मारपीट भी करके गए. दीपक ने इसकी शिकायत शाहगंज थाने में की मगर किसी ने उसकी बात नहीं सुनी. कर्जा चुकाने के लिए उसने 23 सितंबर को अपने मकान का सौदा कर दिया. खरीदार ने एडवांस बतौर 1.50 लाख रुपए दिए.

यह भी पढ़ें- UP के इस शहर में बीटेक डिग्रीधारी युवक कर रहा था चाइल्ड पोर्नग्राफी का धंधा, CBI ने दबोचा

दीपक ने रकम मिलने पर सूदखोर को फोन किया. उसने हिसाब करने के लिए 23 सितंबर की शाम घर पर बुलाया. दीपक वहां पहुंचा तो उसे बंधक बना लिया गया. बेरहमी से पीटा गया. खाली स्टांप पेपर पर जबरन उसके साइन करा लिए गए. आरोप है कि उससे फोन कराकर पत्नी अनुराधा को चेकबुक लेकर वहां बुलाया गया. सूदखोर के गुर्गों ने दीपक की पत्नी को भी बंधक बना लिया. उसे भी पीटा. उससे डेढ़ लाख रुपए भी छीन लिए.

आरोपियों ने बनाया पीड़ित का पत्नी संग वीडियो

पीड़ित परिवार का आरोप है कि इसके बाद उन्हें धमकी देकर अपने मोबाइल से उनकी वीडियो रिकॉर्डिंग की. दीपक से जबरन कहलवाया गया कि उसने तीन लाख रुपए 10 फीसद ब्याज पर उधार लिए थे. जिन्हें वह 28 अक्टूबर 2020 तक वापस कर देगा. घटना से दीपक और अनुराधा अवसाद में आ गए. शनिवार की रात कोल्ड ड्रिंक में विषाक्त पदार्थ मिलाकर पी लिया. इस दौरान खुदकुशी का वीडियो बनाकर परिवार और परिचितों को भेज दिया.

यह बोला पीड़ित का भाई नवल

दीपक ने रकम मिलने पर सूदखोर को फोन किया. उसने हिसाब करने के लिए 23 सितंबर की शाम घर पर बुलाया. दीपक वहां पहुंचा तो उसे बंधक बना लिया गया. बेरहमी से पीटा गया. खाली स्टांप पेपर पर जबरन उसके साइन करा लिए गए. सूदखोर के गुर्गों ने दीपक की पत्नी को भी बंधक बना लिया. उसे भी पीटा. इसके बाद उन्हें धमकी देकर अपने मोबाइल से उनकी वीडियो रिकार्डिंग की. दीपक से जबरन कहलवाया गया कि उसने तीन लाख रुपए 10 फीसद ब्याज पर उधार लिए थे. जिन्हें वह 28 अक्टूबर 2020 तक वापस कर देगा.

दीपक की सास ने बताया कि घटना से दीपक और अनुराधा अवसाद में आ गए थे. शनिवार की रात कोल्ड ड्रिंक में विषाक्त पदार्थ मिलाकर पी लिया. इस दौरान खुदकुशी का वीडियो बनाकर परिवार और परिचितों को भेज दिया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज