Home /News /uttar-pradesh /

 tractor rally :- आगरा बीजेपी की ट्रैक्टर रैली में ब्रजक्षेत्र किसान मोर्चा के अध्यक्ष ने राकेश सिंह टिकैत पर कसा तंज 

 tractor rally :- आगरा बीजेपी की ट्रैक्टर रैली में ब्रजक्षेत्र किसान मोर्चा के अध्यक्ष ने राकेश सिंह टिकैत पर कसा तंज 

ट्रैक्टर

ट्रैक्टर पर सवार किसान

बीजेपी के किसान मोर्चा की तरफ से आज आगरा में ट्रैक्टर रैली (tractor rally )निकाली गई .यह रैली आगरा (Agra)के कोठी मीना बाजार से होते हुए ,एमजी रोड (MG road) पहुंची और एमजी रोड से पुलिस लाइन (police line)होते हुए पुनः कोठी मीना बाजार में पहुंची .इस रैली में तकरीबन डेढ़ सौ से ज्यादा ट्रैक्टर शामिल हुए.

अधिक पढ़ें ...

    बीजेपी के किसान मोर्चा की तरफ से आज आगरा में ट्रैक्टर रैली (tractor rally)निकाली गई .यह रैली आगरा (Agra)के कोठी मीना बाजार से होते हुए ,एमजी रोड (MG road) पहुंची और एमजी रोड से पुलिस लाइन (police line)होते हुए पुनः कोठी मीना बाजार में पहुंची .इस रैली में तकरीबन डेढ़ सौ से ज्यादा ट्रैक्टर शामिल हुए. जो बीजेपी जिंदाबाद के नारे लगाते हुए रैली शहर के बीचो बीच घूमी.यह रैली बीजेपी किसान मोर्चा के ब्रज क्षेत्र के अध्यक्ष प्रशांत पूनिया के नेतृत्व में निकाली गई.

    प्रशांत पूनिया ने राकेश सिंह टिकैत के ऊपर कसा तंज
    भारतीय जनता पार्टी( BJP) किसान मोर्चा के ब्रज क्षेत्र के अध्यक्ष प्रशांत पौनिया ने राकेश सिंह टिकैत पर तंज कसते हुए कहा कि राकेश सिंह टिकैत ने भी दिल्ली(Delhi) में 26 जनवरी को ट्रैक्टर रैली निकाली थी.किस विचार के तहत उन्होंने दिल्ली के अंदर ट्रैक्टर दौड़ाए थे यह सभी को पता है.सभी ने ये तस्वीरें देखी हैं, कि लाल किले की प्राचीर तक ट्रैक्टर पहुंचे और उन्होंने तिरंगे झंडे का अपमान किया.अब राकेश सिंह टिकैत दूसरे दलों के साथ मिलकर राजनीति कर रहे हैं.

    देश का स्वाभिमान है किसान उनके हितों के लिए वापस लिया गया है कानून
    ठीक 2022 के चुनाव से पहले अब राजनीतिक सरगर्मियां तेज हो चुकी हैं.तीनों कृषि कानून वापस लेने के बाद में अब भारतीय जनता पार्टी किसानों के बीच में पहुंच रही है. इसी उद्देश्य से यह रैली आज आगरा में निकाली गई. लेकिन इस रैली के आयोजक प्रशांत पौनिया ने कहा कि ट्रैक्टर किसानों का आधुनिक हल है.हम ट्रैक्टरों की पूजा करते हैं. तीनों कृषि कानून किसानों के हित के लिए थे.लेकिन कुछ दलों ने किसानों को बरगलाया अगर किसानों लगता है कि बिल उनके हितों के लिए नहीं है तो उनके हितों की रक्षा करते हुए सरकार ने यह बिल वापस लिये है.

    2022 में किसानों का वोट मिलेगा भारतीय जनता पार्टी को:- प्रशांत पौनिया
    राजनीतिक पंडित मान रहे हैं कि किसानों के विरोध को देखते हुए, केंद्र सरकार ने यह फैसला लिया है और तीनों कृषि कानूनों को वापस लिया है.अगले सत्र में ही कानून निरस्त करने की कार्रवाई शुरू हो जाएगी. 2022 के चुनावों में किसानों की हिस्सेदारी अहम मानी जा रही है.प्रशांत पौनिया ने कहा कि हमेशा से किसानों का मत भारतीय जनता पार्टी के पक्ष में रहा है, 2022 में भी बीजेपी की स्पष्ट बहुमत की सरकार बनेगी.

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर