कासगंज: हिंसा में शामिल राहत कुरेशी को SOG टीम ने किया गिरफ्तार
Agra News in Hindi

कासगंज: हिंसा में शामिल राहत कुरेशी को SOG टीम ने किया गिरफ्तार
हिंसा में शामिल राहत कुरेशी की फोटो.

पुलिस ने आरोपी के पास से एक तमंचा और कारतूस भी बरामद किया है. पुलिस को राहत कुरेशी की तलाश हिंसा में हुई घटना के बाद से थी.

  • Share this:
गणतंत्र दिवस के दिन तिरंगा यात्रा के दौरान कासगंज में भड़की हिंसा मारे गए चंदन गुप्ता के आरोपी राहत कुरेशी को एसओजी टीम ने शनिवार को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने आरोपी के पास से एक तमंचा और कारतूस भी बरामद किया है. पुलिस को राहत कुरेशी की तलाश हिंसा में हुई घटना के बाद से थी. जो घटना के बाद से फरार चल रहा था. फिलहाल पुलिस टीम आरोपी से पूछताछ कर रही है. इस मामले में पुलिस ने हिंसा मारे गए चंदन गुप्ता के मुख्य आरोपी सलीम जावेद को गिरफ्तार कर चुकी है.

इससे पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वीडियोकांफ्रेंसिंग के जरिए कासगंज की स्थिति का जायजा लिया. मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि किसी भी बेगुनाह को परेशान न किया जाए. उन्होंने कहा कि मामले की जांच गंभीरता से हो और किसी भी दोषी को बख्शा न जाए. हालांकि इस मीटिंग में डीएम नहीं पहुंचे. एसएसपी, सीडीओ और एडीएम से मुख्यमंत्री ने कासगंज का अपडेट लिया.

उधर, यूपी सरकार ने कासगंज हिंसा मामले में अपनी प्रारंभिक रिपोर्ट केंद्र को भेज दी है. रिपोर्ट में कानून व्यवस्था को लेकर पैदा हुई स्थिति, मौजूदा स्थिति और कार्रवाई के बारे में बताया गया है.



अब तक इस मामले में 118 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. हिंसा में दर्ज 5 एफआईआर के तहत 37 लोगों को गिरफ्तार किया गया है, जबकि 81 लोगों को धारा-144 के उल्लंघन के आरोप में अरेस्ट किया गया है. कासगंज हिंसा के दौरान शहर में आगजनी की 7 एफआईआर भी दर्ज की गई हैं.
चंदन हत्याकांड के नामज़द आरोपियों की लिस्ट में सलीम, वसीम, नसीम मुख्य आरोपी हैं. इनके अलावा जाहिद जग्गा, आसिफ़ हिटलर को भी आरोपी बनाया गया है. असलम, असीम, नसरुद्दीन, आकरम, तौफीक, खिल्लन, शबाब, राहत, सलमान, मोहसिन, साकिब, बब्लू, नीशू और वासिफ को भी आरोपी बनाया गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज