Assembly Banner 2021

आखिर दक्षिण कोरिया के रक्षा मंत्री सुह वुक ने 60 पैरा फील्ड हास्पिटल को क्‍यों कहा शुक्रिया 

दक्षिण कोरिया के रक्षामंत्री सुह वुक आगरा के 60 पैरा फील्‍ड अस्‍पताल पहुंचे. तस्‍वीर-सांकेतिक

दक्षिण कोरिया के रक्षामंत्री सुह वुक आगरा के 60 पैरा फील्‍ड अस्‍पताल पहुंचे. तस्‍वीर-सांकेतिक

भारत की 60 पैरा फील्‍ड एंबुलेंस यूनिट ने अमेरिका की सेना के साथ एक मुश्किल आपरेशन में हिस्सा लिया. कोरिया में सर्वोत्‍तम सेवा के लिए सराहना स्‍वरूप इसे दो महावीर चक्र, 6 वीर चक्र और युद्ध सम्मान दिए गए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 28, 2021, 2:32 PM IST
  • Share this:
अरुण जुयाल

आगरा. दक्षिण कोरिया के रक्षा मंत्री सुह वुक ने अपने भारत दौरे के दौरान आगरा स्थित 60 पैरा फील्ड हास्पिटल का दौरा किया साथ ही इसके प्रति कृतज्ञता व्‍यक्‍त करते हुए शुक्रिया भी कहा. सुह वुक का ये दौरा न केवल कोरिया बल्कि भारत के लिए भी कई मायनो में खास था.

बता दें कि 60 पैराशूट फील्ड एंबुलेस का गठन 10 अगस्त 1942 को तत्कालीन ब्रिटिश शासन में सिकंदराबाद में किया गया था. इस यूनिट ने तत्कालीन बर्मा में अपनी सेवाए दी. कुछ समय बाद 1945 में इसको पैरा फील्ड एंबुलेस में बदल दिया गया.



60 पैरा फील्ड हास्पिटल और कोरिया का संबंध
गौरतलब है कि नंवबर 1950 में कॉमनवेल्थ डिवीजन के रूप में संयुक्त राष्ट्र संघ बल में शामिल होने के लिए 60 पैरा फील्‍ड एंबुलेंस को कोरिया भेजा गया था. उस दौरान यूनिट ने अमेरिका की सेना के साथ एक मुश्किल आपरेशन में हिस्सा लिया. कोरिया में सर्वोत्‍तम सेवा के लिए सराहना स्‍वरूप इसे दो महावीर चक्र, 6 वीर चक्र और युद्ध सम्मान दिए गए. कोरिया में यूनिट की कमान संभालने वाले लेफ्टिनेट कर्नल ए जी रंगराज भारत के पहले पैराट्रूपर थे.

कोरिया में किए गए शानदार काम के लिए 10 मार्च 1955 को तत्कालीन राष्ट्रपति डॉ राजेन्द्र प्रसाद ने यूनिट को राष्ट्रपति ट्राफी से भी सम्मानित किया था. इसीलिए दक्षिण कोरिया के रक्षा मंत्री सुह वुक ने आज आगरा में यूनिट का दौरा किया और तत्कालीन कोरिया में किए कार्यों के लिए उनका शुक्रिया भी व्यक्त किया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज