लाइव टीवी

VIDEO: पैदल चलते-चलते थके बेटे को पहिए वाले ब्रीफ़केस पर सुलाकर खींच रही मां
Agra News in Hindi

News18Hindi
Updated: May 14, 2020, 11:39 AM IST
VIDEO: पैदल चलते-चलते थके बेटे को पहिए वाले ब्रीफ़केस पर सुलाकर खींच रही मां
आगरा के एमजी रोड पर एक श्रमिक मां के अपने बच्चे को सूटकेस पर लिटाकर उसे रस्सी से बांधकर खींचने की तस्वीर वायरल हो गई

वायरल वीडियो में बच्चा पहिए वाले ब्रीफकेस पर सोया हुआ है और मां उसे एक रस्सी के सहारे खींचते हुए चल रही है.

  • Share this:
आगरा. लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान पैदल ही अपनेघरों को लिए निकल चुके कामगारों व श्रमिक परिवारों (Migrant Workers) की कई मार्मिक तस्वीरें सामने आ रही हैं. कहीं कोई बैल के साथ बैलगाड़ी में जुतकर परिवार को खींच रहा है तो कहीं भूंसे की तरह सीमेंट मिक्सिंग गाड़ी में ठूसा अपने गंतव्य की तरफ बढ़ रहा है. यूपी के आगरा (Agra) जिले में भी ऐसी ही कुछ तस्वीर सामने आई है, जहां एक मां अपने मासूम बच्चे को ब्रीफ़केस पर लिटाकर पैदल चल रही है. अब यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल है.

वायरल वीडियो में बच्चा पहिए वाले ब्रीफकेस पर सोया हुआ है और मां उसे एक रस्सी के सहारे खींचते हुए चल रही है. वीडियो बना रहा शख्स महिला से यह पूछता दिखाई दे रहा है कि वह कहां जा रही है. इस पर वह जवाब देती है कि उसे महोबा (झांसी) जाना है. बताया जा रहा है कि मजदूरों का यह दल पंजाब से ही पैदल महोबा के लिए निकला है. इस दल में महिलाएं और बच्चे भी शामिल हैं.





बैल के साथ जुता इंसान



उधर सोशल मीडिया पर इंदौर का एक वीडियो वायरल हुआ था, जिसमें बैल के साथ जुता हुआ इन्सान दिखा. वीडियो में राहुल नाम का मजदूर कहता है कि महू में रोजी-रोटी छीन गई. परिवार के साथ इंदौर के गांव जा रहा हूं. पेट भरने के लिए एक बैल बेचना पड़ा. इसलिए बैलगाड़ी में दूसरे बैल की जगह कभी मैं तो कभी पत्नी बारी-बारी से परिवार को खींच रहे हैं.

लगातार आ रही हैं ऐसी ही तस्वीरें

गौरतलब है कि प्रवासी मजदूरों को उनके घर तक पहुंचाने के लिए सूबे की योगी सरकार हजारों बसों का संचालन कर रही है. साथ ही ढाई सौ से ज्यादा ट्रेनों से मजदूर यूपी के अलग-अलग जिलों में पहुंच रहे हैं. बावजूद इसके हर जिलों में सैकड़ों की संख्या में मजदूर व कामगार अपने बच्चों व महिलाओं संग पैदल चलते दिख रहे हैं. चौंकाने वाली बात यह है कि राज्यों व जिलों की सीमाएं सील होने बाद भी पुलिस व जिला प्रशासन इन लोगों को रोककर साधन मुहैया क्यों नहीं करवा रहा. जबकि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जो जहां मिले उसे वहीं से घर भेजने की व्यवस्था का भी निर्देश दिया है.

ये भी पढ़ें:

यूपी के स्वास्थ्य विभाग में बड़े पैमाने पर तबादले, मथुरा, बुलंदशहर के CMO बदले

वित्तमंत्री के ऐलान का मेरठ के कैंची कारोबारियों ने किया स्वागत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए आगरा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 14, 2020, 11:02 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading