मथुरा महोत्सव पर हेमा मालिनी और अखिलेश के मंत्री के बीच ठनी
Agra News in Hindi

मथुरा महोत्सव पर हेमा मालिनी और अखिलेश के मंत्री के बीच ठनी
मथुरा से भाजपा सांसद व फिल्‍म अभिनेत्री हेमा मालिनी द्धारा आयोजित मथुरा महोत्सव का विरोध बढ़ता ही जा रहा है. दो दिवसीय मथुरा महोत्सव में कई फिल्मी हस्तियां भाग लेने पहुंची.

मथुरा से भाजपा सांसद व फिल्‍म अभिनेत्री हेमा मालिनी द्धारा आयोजित मथुरा महोत्सव का विरोध बढ़ता ही जा रहा है. दो दिवसीय मथुरा महोत्सव में कई फिल्मी हस्तियां भाग लेने पहुंची.

  • Share this:
मथुरा से भाजपा सांसद व फिल्‍म अभिनेत्री हेमा मालिनी द्धारा आयोजित मथुरा महोत्सव का विरोध बढ़ता ही जा रहा है. दो दिवसीय मथुरा महोत्सव में कई फिल्मी हस्तियां भाग लेने पहुंची.

वहीं, उत्‍तर प्रदेश के पर्यटन मंत्री ओम प्रकाश भी यहां उद्घाटन सत्र में भाग लेने के लिए आमंत्रित थे. मंत्री जी मथुरा तो आए, लेकिन महोत्सव में भाग नहीं लिया और यमुना एक्सप्रेस-वे से ही वापस चले गए.

मंत्री जी के वापस जाने पर सपा जिलाध्यक्ष गुरुदेव शर्मा ने कहा कि जिस प्रकार मथुरा में किसान मर रहा है, उस वक्त महोत्सव का आयोजन किसानों के जख्मों पर नमक छिड़कने के समान है. यही वजह है कि पर्यटन मंत्री इस कार्यक्रम का बहिष्कार कर वापस चले गए.



गौरतलब है कि ब्रज संस्कृति के प्रचार-प्रसार के मकसद से मथुरा में वर्ष 2008 में प्रशासन और सामाजिक संगठनों के सहयोग से ब्रज रज उत्सव हुआ था. दो दिवसीय इस उत्सव में स्थानीय कलाकारों ने अपनी प्रस्तुतियां दी थीं, मगर इसके बाद ये आयोजन अपनी पहली सालगिरह भी नहीं मना पाया, न ही इसके लिए गंभीरता से कोई प्रयास ही हुए.
करीब सात साल के लंबे अंतराल के बाद मथुरा महोत्सव के रुप में बेहतरी और विकास की संभावनाओं की उम्मीद का मंच सजा है. भाजपा नेता लालकृष्‍ण आडवाणी और ब्रज के संत गुरुशरणानंद महाराज ने महोत्‍सव का उद्घाटन किया.

उद्घाटन के दौरान भाजपा नेता लालकृष्‍ण आडवाणी ने कहा कि कृष्‍ण की नगरी मथुरा की कला और संस्‍कृति को देश व दुनिया में बढ़ाने की दिशा में यह महोत्‍सव सार्थक होगा. उन्‍होंने इस कार्यक्रम की पहल के लिए सांसद हेमा मालिनी की तारीफ की.

आडवाणी ने कहा कि आज जितना सम्‍मान हेमा मालिनी ने दिया है, उतना किसी भी सांसद ने नहीं दिया. उन्‍होंने लोगों से कहा कि जब तक मथुरा का पूर्ण विकास न हो जाए, तब तक हेमा को संसद में भेजते रहें. वृंदावन में आकर उन्‍हें सुखद अनुभूति होती है.

हेमामालिनी ने कहा कि पहले दो दिवसीय महोत्सव का आयोजन 11 एवं 12 अप्रैल को होना था. बेमौसम बारिश और ओलावृष्टि के कारण इसे स्थगित कर दिया गया था. अब इस महोत्सव से होने वाली आय को पीड़ित किसानों को दिया जाएगा.

उनका कहना है कि सांसद बनने के बाद मुझे लगा कि भगवान श्रीकृष्ण जन्मस्थली में विकास की बहुत जरुरत है और इसे पर्यटन स्थल के तौर पर विकसित करना चाहिए. इससे रोजगार के अवसर भी मिलेंगे.

 

आप hindi.news18.com की खबरें पढ़ने के लिए हमें फेसबुक और टि्वटर पर फॉलो कर सकते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading