आगरा के DM ने प्रियंका गांधी के दावों को क्‍यों बताया झूठा? जानें क्‍या है मामला
Agra News in Hindi

आगरा के DM ने प्रियंका गांधी के दावों को क्‍यों बताया झूठा? जानें क्‍या है मामला
प्रियंका गांधी वाड्रा (file photo)

आगरा डीएम प्रभु एन सिंह ने ट्वीट कर जवाब दिया कि जिस मीडिया रिपोर्ट का हवाला दिया गया है वह गलत है.

  • Share this:
आगरा. कांग्रेस (Congress) की राष्ट्रीयके महासचिव प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) के ट्वीट पर आगरा के डीएम प्रभु एन सिंह (Agra DM Prabhu N Singh) ने जवाब दिया है. प्रियंका गांधी ने एक खबर को ट्वीट करते हुए योगी सरकार पर हमला किया था. उन्होंने ट्वीट में लिखा था, 'आगरा में 48 घंटे में भर्ती हुए 28 कोरोना मरीजों की मृत्यु हो गई. यूपी सरकार के लिए कितनी शर्म की बात है कि इसी मॉडल का झूठा प्रचार करके सच दबाने की कोशिश की गई. सरकार की नो टेस्ट-नो कोरोना पॉलिसी पर सवाल उठे थे, लेकिन सरकार ने उसका कोई जवाब नहीं दिया. अगर यूपी सरकार सच दबाकर कोरोना मामले में इसी तरह लगातार लापरवाही करती रही तो बहुत घातक होने वाला है.'

इसके बाद आगरा डीएम प्रभु एन सिंह ने ट्वीट कर जवाब दिया कि जिस मीडिया रिपोर्ट का हवाला दिया गया है वह गलत है. उन्होंने लिखा इस मीडिया रिपोर्ट में अब तक हुए कुल कोरोना पॉजिटिव मरीजों की मृत्यु के सम्बन्ध में डेथ ऑडिट का हवाला दिया गया है. पिछले 109 दिनों में आगरा में अबतक कुल 1136 केस एवं 79 मृत्यु हुयी है. "पिछले 48 घंटों में भर्ती हुए 28 कोरोना मरीजों की मृत्यु" की खबर असत्य है.

सोशल मीडिया से लगातार हमलावर हैं प्रियंका
गौरतलब है कि कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव लगातार ट्वीट और फेसबुक पोस्ट के माध्यम से योगी सरकार पर हमलावर हैं. इससे पहले उन्होंने कानपुर के शेल्टर होम में बच्चियों के कोरोना संक्रमित होने और कुछ के प्रेग्नेंट होने की खबर पर सरकार को घेरा था. इसके अलावा कानपुर के ही एक युवा दंपत्ति द्वारा आत्महत्या किए जाने पर सरकार के दावे पर सवाल खड़े किये थे. उन्होंने लिखा था, 'एक तरफ सूबे के मुख्यमंत्री लाखों नौकरियां देने का दम भर रहे है तो दूसरी तरफ कानपुर के युवा दंपति ने लॉकडाउन में गई नौकरी के कारण भूख के कारण मौत को गले लगा लिया. सरकार को संकटकाल मे प्रचार से ज्यादा लोगो की समस्याओं के समाधान पर ज्यादा ध्यान देना चाहिए.'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज