Home /News /uttar-pradesh /

आगरा पहुंचे राकेश टिकैत, बोले- इस बार दिल्ली धरना स्थल पर मनेगी किसानों की दीपावली

आगरा पहुंचे राकेश टिकैत, बोले- इस बार दिल्ली धरना स्थल पर मनेगी किसानों की दीपावली

भाकियू नेता राकेश टिकैत आगरा में मृतक अरुण के परिवार से मिले और उनको सांत्वना दी.

भाकियू नेता राकेश टिकैत आगरा में मृतक अरुण के परिवार से मिले और उनको सांत्वना दी.

Rakesh Tikait in agra: भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत आगरा पहुंचे. वह मृतक अरुण के परिवार से मिले और उनको सांत्वना दी. इस दौरान मीडिया से बात करते हुए टिकैत ने कहा कि इस बार किसान दिल्ली धरना स्थल पर ही दीपावली मनाएंगे. टिकैत ने कहा कि सरकार ने लखीमपुर खीरी की घटना बाद के मुआवजे की कीमत निर्धारित कर दी है. मौत की कीमत 40 लाख रुपये है. इसलिए सरकार को यही कीमत अरुण के परिवार को देनी चाहिए.

अधिक पढ़ें ...

    आगरा. ताजनगरी आगरा (Agra) के जगदीशपुरा थाना के मालखाना से 25 लाख रुपये की चोरी के आरोपी सफाई कर्मचारी अरुण की मौत पर अभी राजनीति थम नहीं रही है. सोमवार को भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) आगरा पहुंचे. सबसे पहले वह आगरा के लोहामंडी स्थित मृतक अरुण के परिवार से मिले, और उनको सांत्वना दी. उसके बाद वह छीपीटोला पर स्थित अम्बेडकर सामुदायिक केंद्र में मीडिया से रूबरू हुए.

    आपको बता दें कि 16 अक्टूबर-2021 की रात जगदीशपुरा थाना परिसर के मालखाने से 25 लाख रुपये की चोरी हुई थी. जिसके बाद पुलिस ने आरोपी अरुण को गिरफ्तार किया था. अरुण के घर वालों का आरोप था कि पुलिस ने अरुण को मौत की नींद सुलाया है. उसके बाद इस घटना ने राजनीतिक मोड़ ले लिया. तमाम राजनीतिक पार्टियां अब तक अरुण के परिवार से मिलकर न्याय की बात कहती नजर आईं. इसी कड़ी में सोमवार को किसान नेता राकेश टिकैत भी अरुण के घर पहुंचे.

    मीडिया से रूबरू होने पर भाकियू नेता राकेश टिकैत ने कहा कि सरकार ने लखीमपुर खीरी की घटना बाद के मुआवजे की कीमत निर्धारित कर दी है. मौत की कीमत 40 लाख रुपये है. इसलिए सरकार को यही कीमत अरुण के परिवार को देनी चाहिए. साथ ही इस मामले की न्यायिक जांच होनी चाहिए और दोषियों को जल्द सजा दिलाई जाए.

    राकेश टिकैत ने कहा कि दिल्ली में धरना स्थल पर ही इस बार किसान दीपावली मनाएंगे. क्योंकि, सरकार हमारी मांग मान नहीं रही है. न ही कृषि कानून वापस नहीं ले रहे हैं. हमारा किसान आंदोलन संघर्ष से समाधान तक जारी रहेगा.

    रिपोर्ट- कामिर खुरैशी

    Tags: Agra news, Agriculture Law, Bhartiya Kisan Union, Kisan Deepawali, Rakesh Tikait

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर