Assembly Banner 2021

आगरा: प्रेमिका से शादी की चाहत में मां को उतारा था मौत के घाट, गिरफ्तार

इलाहबाद यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर शाहिद सहित 30 लोग गिरफ्तार (प्रतीकात्मक फोटो)

इलाहबाद यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर शाहिद सहित 30 लोग गिरफ्तार (प्रतीकात्मक फोटो)

एसपी सिटी रोहन पी बोत्रे ने बताया कि लक्ष्मी देवी घर में अकेली रहती थीं. उनके पति की मौत पहले ही हो चुकी थी. ये वारदात दिन में हुई थी. वारदात को अंजाम देने के बाद शिवम ने माशूका को अपने घर भेज दिया और खुद भी भाग गया था.

  • Share this:
आगरा. आगरा में 6 मार्च को हुई 55 वर्षीय महिला की हत्या का खुलासा सोमवार को पुलिस ने कर दिया है. महिला की हत्या उसी के बेटे ने की थी. बता दें कि लक्ष्मी देवी का शव उनके घर में बरामद हुआ. लक्ष्मी देवी की मौत संदिग्ध लग रही थी. लेकिन जब पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आई तो पुलिस हैरान रह गयी. लक्ष्मी देवी की साधारण मौत नहीं थी बल्कि हत्या की गई थी. पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के आधार पर पुलिस ने तफ्तीश की तो चौंकाने वाला खुलासा हुआ. लक्ष्मी देवी की हत्या उसके बेटे शिवम ने की थी.

प्रेमिक के लिए बना मां का कातिल

पुलिस के मुताबिक मां की हत्या के पीछे वजह थी शिवम की प्रेमिका थी. शिवम अपनी माशूका से शादी करना चाह रहा था. लेकिन ये रिश्ता मां लक्ष्मी देवी को गवारा नहीं था. शिवम का प्रेम प्रसंग पड़ोस में रहने वाली युवती से था. लिहाजा लक्ष्मी देवी इस रिश्ते के खिलाफ थीं. शिवम चाहता था कि वह अपनी प्रेमिक के साथ शादी करे. मां ने ज्यादा विरोध किया तो शिवम ने अपनी मां से रुपये मांगे. रुपये इसलिए मांगे कि वह अपनी प्रेमिका को लेकर भाग जाए और अपनी जिंदगी अपने तरीके से जीना शुरू कर दे. लेकिन मां लक्ष्मी देवी ने रुपये देने से इंकार कर दिया.



तकिया से मुंह दबा कर की हत्या
वारदात के दिन शिवम घर में रखे जेवरात और कैश को निकालने लगा. तभी मां लक्ष्मी देवी आ धमकी और कैश और जेवरात ले जाने से रोकने लगी. इसी बीच शिवम ने अपनी का को धक्का दे दिया. जिससे माँ घायल हो गयी. बाद में शिवम ने अपनी प्रेमिका को बुला लिया. दोनों ने साथ मिलकर लक्ष्मी देवी का तकिया से मुंह दबाकर लक्ष्मी देवी की हत्या कर दी. वारदात करने के बाद शिवम और उसकी प्रेमिका मौके से फरार हो गए.

पुलिस को किया गुमराह

एसपी सिटी रोहन पी बोत्रे ने बताया कि लक्ष्मी देवी घर में अकेली रहती थीं. उनके पति की मौत पहले ही हो चुकी थी. ये वारदात दिन में हुई थी. वारदात को अंजाम देने के बाद शिवम ने माशूका को अपने घर भेज दिया और खुद भी भाग गया था. रात में शिवम वापस आया और रात में ही शिवम ने अपनी मां की मौत होने की खबर पुलिस को दी. मौके पर पुलिस पहुंच गयी. पुलिस ने लक्ष्मी देवी के शव को कब्जे में लिया और जांच पड़ताल में ये खुलासा हुआ. पुलिस ने शिवम और उसकी माशूका को गिरफ्तार कर लिया है.

ये भी पढ़ें:

सीएम योगी ने दी होली की बधाई, कहा- शांति व्यवस्था बिगड़ी तो होगी कड़ी कार्रवाई
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज