दरवेश हत्याकांड में CBI जांच की मांग वाली याचिका खारिज, SC ने कहा- जाइए हाईकोर्ट

यूपी बार काउंसिल की अध्यक्ष दरवेश यादव हत्याकांड में सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई जांच संबंधी याचिका पर सुनवाई करने से मना कर दिया है.

News18 Uttar Pradesh
Updated: June 25, 2019, 6:51 PM IST
दरवेश हत्याकांड में CBI जांच की मांग वाली याचिका खारिज, SC ने कहा- जाइए हाईकोर्ट
सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि सीबीआई जांच के लिए हाईकोर्ट में अपील की जा सकती है.
News18 Uttar Pradesh
Updated: June 25, 2019, 6:51 PM IST
यूपी बार काउंसिल की अध्यक्ष दरवेश यादव हत्याकांड में सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई जांच संबंधी याचिका पर सुनवाई करने से मना कर दिया है. कोर्ट ने कहा है कि याची इस मसले को लेकर हाईकोर्ट में अपील कर सकते हैं. इससे पहले 21 जून को कोर्ट ने इस जनहित याचिका पर सुनवाई के लिए स्वीकार कर ली थी. याचिका में पूरे देश की अदालतों में महिला वकीलों की सुरक्षा सुनिश्चित किए जाने की भी मांग की गई थी. सर्वोच्च अदालत में यह याचिका वकील इंदू कौल ने दाखिल की थी. लेकिन मंगलवार को इस पर सुनवाई हुई तो कोर्ट ने कहा कि सीबीआई जांच के लिए राज्य के हाईकोर्ट में अपील की जा सकती है.

कोर्ट ने याचिका मुख्य रूप से एक विशेष घटना से संबंधित है. कोर्ट ने यह सवाल भी किया कि क्या हाईकोर्ट इस मुद्दे से निपटने में शक्तिहीन है? गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश बार काउंसिल की पहली महिला अध्यक्ष दरवेश यादव की आगरा जिला न्यायालय के परिसर में ही गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. जिसके बाद परिजन ने सरकार से सीबीआई जांच की मांग की थी.



वकील मनीष शर्मा की भी मौत

दरवेश यादव को गोली मारने वाले वकील मनीष शर्मा की भी इलाज के दौरान मौत हो चुकी है. दरवेश पर हमले के बाद मनीष ने खुद को भी गोली मार ली थी. उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां उनकी स्थिति गंभीर बनी हुई थी. मनीष की मौत हरियाणा के मेदांता अस्पताल में हुई.

दरवेश यादव कुछ ही समय पहले यूपी बार काउंसिल की पहली महिला अध्यक्ष बनी थीं.


हुआ था विरोध

दरवेश की हत्या के बाद पूरे प्रदेश में वकीलों ने खराब कानून व्यवस्‍था को लेकर विरोध प्रदर्शन किया था. साथ ही कुछ जगहों पर वकीलों ने न्यायिक कार्य का भी बहिष्कार किया था. इस दौरान यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने प्रदेश में बढ़ रही आपराधिक घटनाओं की निंदा करते हुए कहा था कि ऐसी वारदातों में पुलिस की संलिप्तता की भी आशंका है. साथ ही उन्होंने सरकार पर निशाना साधते हुए कहा था कि प्रदेश में यह कैसी सरकार है जिसमें कानून व्यवस्‍था का नामो निशां ही नहीं है.
Loading...

क्या था मामला

आगरा में 5 जून को दरवेश यादव की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. वे स्वागत समारोह में भाग लेने के लिए आगरा जिला न्यायालय पहुंची थीं. हत्या का आरोपी भी वकील ही था, जिसने दरवेश को गोली मारने के बाद खुद को भी गोली मार ली थी, जिसे घायल हालत में अस्पताल में भर्ती करवाया गया था. गौरतलब है कि दरवेश दो दिन पहले ही बार काउंसिल की अध्यक्ष चुनी गई थीं.

ये भी पढ़ें:

सपा-बसपा गठबंधन टूटने पर मुख्तार अब्बास नकवी का तंज- अजीब दास्तां है ये...

योगी कैबिनेट की बैठक में 6 प्रस्ताव पास, पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे के लिए 3000 करोड़ लोन लेगी सरकार
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...