Home /News /uttar-pradesh /

हिज़ाब की आग पहुंची आगरा,जानिए जनता की नज़र में कितना सही है हिज़ाब ?

हिज़ाब की आग पहुंची आगरा,जानिए जनता की नज़र में कितना सही है हिज़ाब ?

X

कर्नाटक से शुरू हुआ हिज़ाब का विवाद अब आगरा तक भी पहुंच गया है.हिज़ाब को लेकर एक ओर जहां अब जमकर सियासत हो रही है.तो वहीं हिन्दू वादी संगठन के लोगों ने भगवा गमछा बांट कर विवाद को और तूल डाल दिया है.हालांकि कर्नाटक हाईकोर्ट में हिज़ाब को लेकर सुनवाई जारी है.उडुपी शहर के एक स्?

अधिक पढ़ें ...

    कर्नाटक से शुरू हुआ हिज़ाब का विवाद अब आगरा तक भी पहुंच गया है.हिज़ाब को लेकर एक ओर जहां अब जमकर सियासत हो रही है.तो वहीं हिन्दू वादी संगठन के लोगों ने भगवा गमछा बांट कर विवाद को और तूल डाल दिया है.हालांकि कर्नाटक हाईकोर्ट में हिज़ाब को लेकर सुनवाई जारी है.उडुपी शहर के एक स्कूल में जहाँ कुछ मुस्लिम लड़कियां हिजाब पहनकर जाती हैं.जिसका स्कूल की तरफ से विरोध भी किया जाता है.हवाला दिया जाता है कि स्कूल में यूनिफार्म है और सभी को यूनिफॉर्म में आना है और वहीं से विवाद खड़ा हो जाता है.

    आगरा में स्कूल में बांटे गए थे हिज़ाब,बदले में हिंदूवादियो ने बांटे भगवा गमछे
    आगरा के एक स्कूल में वैलेंटाइन डे पर छात्राओं को अनोखा उपहार दिया गया है.यहां छात्राओं को हिजाब बांटे गए.न्यू फाउंडेशन संस्था ने आगरा के डोलिखार स्थित अनवरी निरोफर इंटर कॉलेज में छात्राओं को हिजाब दिए गए हैं.बदले में हिंदूवादी संगठनों ने आगरा कॉलेज के बाहर युवाओं को भगवा गमछे बांटे.धीरे-धीरे मामला तूल पकड़ता जा रहा है.ताजमहल पर भी हिंदू संगठनों के कुछ लोगों ने भगवा वस्त्र पहनकर ताज महल में प्रवेश करने की कोशिश की थी. लेकिन सफल नहीं हो सके.

    क्या सोचती है हिज़ाब को लेकर आगरा की जनता ?

    यूपी चुनावों के बीच में हिज़ाब का मुद्दा बढ़ता जा रहा है.कर्नाटक से होती हुई यह आग आगरा तक पहुंच गई है.क्या शैक्षिक संस्थानों में हिसाब जरूरी होना चाहिए ? हालांकि इस पर कर्नाटक कोर्ट में सुनवाई अभी जारी है.लेकिन हमने आगरा की जनता से हिज़ाब पहनने को लेकर राय जानी.आगरा की जनता का कहना है कि जो कोर्ट तय करेगा वही सही होगा.वैसे आमतौर पर किसी भी शैक्षिक संस्थानों में किसी भी धार्मिक परिधानों की आवश्यकता नहीं है . स्कूल कॉलेजों को केवल शिक्षा के मंदिर के तौर पर ही देखा जाना चाहिए.स्कूल कॉलेजों में किसी भी तरह का धार्मिक विवाद खड़ा नहीं होना चाहिए.

    (रिपोर्ट हरीकान्त शर्मा)

    Tags: Agra news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर