आगरा बैंक लूटकांड: चौकी इंचार्ज समेत 3 पुलिसकर्मी सस्पेंड, सुराग देने पर एक लाख रुपये का ईनाम

चौकी इंचार्ज समेत 3 पुलिसकर्मी सस्पेंड (File photo)

चौकी इंचार्ज समेत 3 पुलिसकर्मी सस्पेंड (File photo)

एडीजी (ADG) अजय आनंद ने बताया कि बैंक लूट मामले में पुलिस (Police) की 6 टीमें गठित कर दी गई हैं. सभी टीमें अलग-अलग स्थानों पर रवाना कर दी गई हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 18, 2020, 7:03 AM IST
  • Share this:
आगरा. ताज नगरी आगरा (Agra) में बीते 15 दिसंबर की शाम चार लुटेरों ने इंडियन ओवरसीज बैंक (Indian Overseas Bank) के स्टाफ को बाथरूम में बंदकर करीब 57 लाख रुपए लूटकर (Loot) फरार हो गए. घटना सामने आने के बाद हड़कंप मच गया. उधर, एसएसपी बबलू कुमार ने कड़ी लापरवाही के आरोप में चौकी इंचार्ज समेत 3 पुलिसकर्मी सस्पेंड कर दिया. फिलहाल पुलिस आरोपियों की तलाश में छापेमारी कर रही है. वहीं बदमाशों का सुराग देने वाले को 1 लाख रुपये ईनाम की घोषणा पुलिस ने की है.

हरकत में आई पुलिस ने लुटेरों की गिरफ़्तारी के लिए ग्वालियर के पुलिस अधिकारियों से बात की है. बातचीत के बाद ग्वालियर में पुलिस की चेकिंग बढ़ा दी गई है. उधर लूट के मामले में बैंक की बड़ी लापरवाही सामने आई है. पुलिस अधिकारियों के मुताबिक बैंक में कोई सुरक्षा गार्ड तैनात नहीं था.

खुलासे के लिए 6 टीमें गठित

एडीजी अजय आनंद, आईजी सतीश गणेश, एसएसपी बबलू कुमार ने घटनास्थल का निरीक्षण किया. एडीजी अजय आनंद ने बताया कि बैंक लूट मामले में पुलिस की 6 टीमें गठित कर दी गई हैं. सभी टीमें अलग-अलग स्थानों पर रवाना कर दी गई हैं. आगरा शहर में सभी चौराहों पर सीसीटीवी फुटेज की मदद ली जा रही है. ग्वालियर मार्ग पर रोहता में 56, 98000 रुपए की लूट करके अपराधियों ने पुलिस को बड़ी चुनौती दी है.
शुरुआती जांच में जब बैंक अधिकारियों से पुलिस ने बात की तो सबसे चौंकाने वाला खुलासा यही हुआ कि बैंक में सुरक्षा मानकों की पूरी तरह अनदेखी की गई. कायदे से बैंक में सुरक्षा गार्ड की तैनाती होनी चाहिए, लेकिन बैंक में कोई सुरक्षा गार्ड तैनात नहीं था. बैंक में हुई बड़ी लूट की घटना के बाद आगरा शहर में हड़कंप मच गया. शहर की सड़कों पर जगह-जगह पुलिस पुलिस नजर आ रही है. पुलिस अधिकारियों का दावा है बहुत जल्द इस सनसनीखेज लूट कांड का खुलासा कर दिया जाएगा.

लुटेरों ने बैंक स्टॉफ को बाथरूम में किया बंद

लगभग 57 लाख रुपए निकलवाने के बाद हथियारों से लैस लुटेरों ने बैंक कर्मियों को एक-एक कर बाथरूम में बंद कर दिया। इसके बाद रुपयों से भरा बैग लेकर चारों लुटेरे दो बाइकों पर सवार होकर भाग निकले. क्योंकि बैंक का स्टाफ बाथरूम में बंद था इसलिए सही समय पर पुलिस की कार्यवाई नहीं हो पाई. जब तक पुलिस को बैंक में लूट का पता चला तब तक लुटेरे भाग निकले थे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज