लाइव टीवी

गाड़ी से हो रही थी कछुओं की तस्करी, पुलिस ने 3 तस्कर को किया गिरफ्तार

News18 Uttar Pradesh
Updated: October 27, 2019, 2:12 PM IST
गाड़ी से हो रही थी कछुओं की तस्करी, पुलिस ने 3 तस्कर को किया गिरफ्तार
पुलिस ने 80 कछुओं को तस्करों से किया बरामद

पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर छापेमारी के बाद कार से 80 कछुओं को बरामद किया. साथ ही तीन तस्करों को भी गिरफ्तार किया.

  • Share this:
उत्तर प्रदेश के आगरा (Agra) में कछुओं (turtles) की तस्करी का भंडाफोड़ हुआ है. बीती रात को वन विभाग ने 80 कछुओं को तस्करों के पास से बरामद किया. पूरा मामला थाना फतेहाबाद (Fatehabad) क्षेत्र के एक्सप्रेस वे का है. कहा जा रहा है कि वन विभाग को सूचना मिली थी कि एक कार में कछुओं की तस्करी हो रही है. इस बीच पुलिस ने आरोपी तस्करों को गाड़ी सहित गिरफ्तार कर लिया गया. जब गाड़ी की जांच की गई तो उसमें से तीन बोरे में 80 कछुए बरामद हुए.

स्थानीय थाना पुलिस ने बताया कि कार में तीन लोग थे. लिहाजा, तीनों को गिरफ्तार कर लिया गया. वहीं, वन विभाग के कर्मचारी सभी कछुओं को ले गए. पकड़े गए कछुओं की कीमत करीब 18 लाख रुपये आंकी जा रही है. पुलिस तीनों तस्करों से पूछताछ कर रही है.

कई उल्लू भी बरामद किए थे
बता दें कि इसी महीने 22 अक्टूबर को गाजियाबाद में पुलिस ने दो पक्षी तस्करों को गिरफ्तार किया था. पुलिस ने तस्करों के पास से कई उल्लू  भी बरामद किए थे. कहा जा रहा था कि दिवाली पर तांत्रिक क्रियाओं की सिद्धि करने के लिए उल्लू की तस्करी करने की कोशिश की जा रही थी. जानकारी के मुताबिक, मामला गाजियाबाद के इंदिरापुरम का था. पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर दो पक्षी तस्करों को गिरफ्तार किया था. बताया जा रहा था कि दिवाली पर्व पर तांत्रिक क्रिया की सिद्धि के लिए उल्लुओं की तस्करी की जा रही थी. एसपी सिटी मनीष मिश्रा ने बताया कि मुखबिर की सूचना पर तस्करों को गिरफ्तार किया गया है. इनके कब्जे से पुलिस ने पांच उल्लुओं को बरामद किया था.

ये भी पढ़ें- 

सुपरटेक बिल्डर पर नोएडा अथॉरिटी की सख्ती! 293 करोड़ की वसूली के लिए जारी की RC

दबिश देने गयी पुलिस टीम के महिला सदस्य की लोगों ने वर्दी फाड़ी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए आगरा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 27, 2019, 2:09 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...