लाइव टीवी

Valentine Day 2020: देश-विदेश से आए पर्यटक आज नहीं कर सकेंगे ताज महल का दीदार

News18 Uttar Pradesh
Updated: February 14, 2020, 8:08 AM IST
Valentine Day 2020: देश-विदेश से आए पर्यटक आज नहीं कर सकेंगे ताज महल का दीदार
वेलेंटाइन डे (Valentines Day) पर इस बार देश-विदेश से आए पर्यटकों को ताज महल (Taj Mahal) में प्रवेश नहीं मिलेगा क्योंकि शुक्रवार को ताज महल बंद रहता है. हालांकि पर्यटक यमुना पार स्थित मेहताब बाग से ताज महल का दीदार कर सकते हैं

वेलेंटाइन डे (Valentine's Day) पर इस बार देश-विदेश से आए पर्यटकों को ताज महल (Taj Mahal) में प्रवेश नहीं मिलेगा क्योंकि शुक्रवार को ताज महल बंद रहता है. हालांकि पर्यटक यमुना पार स्थित मेहताब बाग से ताज महल का दीदार कर सकते हैं

  • Share this:
आगरा. ताज महल (Taj Mahal) की वजह से आगरा (Agra) देश ही नहीं दुनिया में भी अपनी एक अलग पहचान रखता है. वेलेंटाइन डे (Valentine's Day) पर इस बार देश-विदेश से आए पर्यटकों को ताज महल में प्रवेश नहीं मिलेगा क्योंकि शुक्रवार को ताज महल बंद रहता है. हालांकि पर्यटक यमुना पार स्थित मेहताब बाग से ताज महल का दीदार कर सकते हैं. दरअसल शुक्रवार को वेलेंटाइन डे है. इस दिन प्रेम करने वाले अपने प्यार का इजहार करते हैं. वेलेंटाइन डे के दिन प्रेमी एक-दूसरे को गुलाब का फूल भेंट करते हैं.

वैलेंटाइन डे हर कपल के लिए खास होता है. प्यार करने वाले लोग इस दिन इश्क का इजहार करने के लिए साल भर का इंतजार करते हैं. हाल ही में एक्ट्रेस सारा अली खान और कार्तिक आर्यन अपनी अपकमिंग फिल्म लव आजकल के प्रमोशन के लिए आगरा पहुंचे थे. यहां उन्होंने खूबसूरत ताज महल का दीदार किया था.

क्यों मनाया जाता है वैलेंटाइन डे?

बता दें कि 'ऑरिया ऑफ जैकोबस डी वॉराजिन' नाम की पुस्तक के मुताबिक संत वेलेंटाइन रोम के एक पादरी थे. वो दुनिया में प्यार को बढ़ावा देने में मान्यता रखते थे. उनके लिए प्रेम में ही जीवन था. लेकिन इसी शहर के राजा क्लॉडियस को उनकी ये बात पसंद नहीं थी. राजा को लगता था कि प्रेम और विवाह से पुरुषों की बुद्धि और शक्ति दोनों खत्म होती है. इसी वजह से उनके राज्य में सैनिक और अधिकारी शादी नहीं कर सकते थे.

हालांकि, संत वेलेंटाइन ने राजा क्लॉडियस के इस आदेश का विरोध किया और रोम के लोगों को प्यार और विवाह के लिए प्रेरित किया. इतना ही नहीं, उन्होंने कई अधिकारियों और सैनिकों की शादियां भी कराई. इस बात से राजा भड़क उठा और उसने संत वेलेंटाइन को 14 फरवरी, 269 में फांसी पर चढ़वा दिया. तब से हर साल दुनिया भर में इस दिन को 'प्यार के दिन' के तौर पर मनाया जाता है. कहा जाता है कि संत वेलेंटाइन ने अपनी मौत के समय जेलर की अंधी बेटी जैकोबस को अपनी आंखें दान कर दी थीं. संत ने जेकोबस को एक पत्र भी लिखा, जिसके आखिर में उन्होंने लिखा था 'तुम्हारा वेलेंटाइन.'

(इनपुट- मोहम्मद आरिफ)

ये भी पढ़ें:सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद जानिए यूपी असेंबली में किस दल के कितने विधायकों पर दर्ज है आपराधिक केस

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए आगरा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 14, 2020, 6:33 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर