होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /78 दिनों तक पर्यावरण को पहुंचाया नुकसान, यूपी मेट्रो पर लगा 29.25 लाख का जुर्माना

78 दिनों तक पर्यावरण को पहुंचाया नुकसान, यूपी मेट्रो पर लगा 29.25 लाख का जुर्माना

Agra Metro: प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने यूपी मेट्रो पर लगाया जुर्माना

Agra Metro: प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने यूपी मेट्रो पर लगाया जुर्माना

Agra Metro: प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड का आरोप है कि यूपी मेट्रो ने लगातार 78 दिनों तक पर्यावरण को क्षति पहुंचाया. बार-बार ...अधिक पढ़ें

  • News18Hindi
  • Last Updated :

हाइलाइट्स

78 दिनों तक पर्यावरण को नुकसान पहुंचाने का आरोप
NGT के नियमों के तहत जुर्माने की कार्रवाई की गई
आगरा में रेल लाइन बिछाने के दौरान फैला था प्रदूषण

आगरा. ताज नगरी आगरा में पर्यावरण को नुकसान पहुंचाने की वजह से यूपी मेट्रो पर प्रदूषण बोर्ड ने भारी भरकम जुर्माना लगाया गया है. यूपी मेट्रो पर 14 सितंबर से 30 नवंबर 2021 तक धूल उड़ाने पर कार्रवाई की गई है. फिलहाल जुर्माना अधिरोपित कर नोटिस जारी कर दिया गया है. दरअसल, पीएसी मैदान पर मेट्रो डिपो निर्माण और फतेहाबाद रोड पर लाइन बिछाने में प्रदूषण का आरोप लगा है. कई चेतावनी के बाद भी जब यूपी मेट्रो ने धूल नियंत्रण के उपाय नहीं किए तब यह सख्त कार्रवाई प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने की.

प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड का आरोप है कि यूपी मेट्रो ने लगातार 78 दिनों तक पर्यावरण को क्षति पहुंचाया. बार-बार चेतावनी के बावजूद यूपी मेट्रो की तरफ से कोई उपाय नहीं किया. जिसके बाद जुर्माने की यह कार्रवाई की गई है. हर दिन के लिए 37,500 रुपये की पर्यावरण क्षतिपूर्ति लगाई गई है. बता दें कि इसके पूर्व में प्रदूषण को लेकर एनएचएआई पर भी 6 करोड़ का जुर्माना लगाया गया था.

एनजीटी के आदेशानुसार कार्रवाई
उत्तर प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के क्षेत्रीय अधिकारी डॉ. विश्वनाथ शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि 10 अक्तूबर से 11 नवंबर तक रेल लाइन बिछाने और शेड निर्माण के दौरान धूल नियंत्रण के लिए प्रभावी कार्रवाई नहीं की गई. जिसके बाद एनजीटी के आदेश पर पर्यावरण क्षतिपूर्ति का नोटिस जारी किया. जुर्माने के साथ मेट्रो के प्रोजेक्ट मैनेजर के खिलाफ वायु प्रदूषण निवारण एवं नियंत्रण अधिनियम 1981 की धारा 31 ए के तहत नोटिस भी जारी किया गया है.

आपके शहर से (आगरा)

Tags: Agra Metro, Agra news, UP latest news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें