यमुना एक्सप्रेस वे हादसा: चश्मदीद महिला यात्री ने बताया- बस जैसे ही टोल प्लाजा से रवाना हुई ड्राइवर....

बस हादसे में अब तक 29 लोगों की मौत हो चुकी है. 23 यात्री घायल हैं. कुछ की हालत अभी भी चिंताजनक बनी हुई है. डिप्टी सीएम, परिवहन मंत्री और तमाम अधिकारी घटनास्थल पर पहुंच चुके हैं.

नासिर हुसैन | News18Hindi
Updated: July 8, 2019, 4:42 PM IST
यमुना एक्सप्रेस वे हादसा: चश्मदीद महिला यात्री ने बताया- बस जैसे ही टोल प्लाजा से रवाना हुई ड्राइवर....
फोटो- नाले में गिरी बस.
नासिर हुसैन
नासिर हुसैन | News18Hindi
Updated: July 8, 2019, 4:42 PM IST
आगरा में यमुना एक्सप्रेसवे पर हुए बस हादसे की एक चश्मदीद गवाह सामने आई हैं. यह गवाह एक महिला मंजू वर्मा हैं. मंजू वर्मा उसी बस में सवार थीं, जो हादसे का शिकार हुई है. इस बस हादसे में अब तक 29 लोगों की मौत हो चुकी है. 23 यात्री घायल हैं. कुछ की हालत अभी भी चिंताजनक बनी हुई है. डिप्टी सीएम, परिवहन मंत्री और तमाम अधिकारी घटनास्थल पर पहुंच चुके हैं.

लखनऊ से दिल्ली जा रहीं 52 वर्षीय मंजू वर्मा ने बताया “जनरथ बस रात 10.30 बजे लखनऊ से रवाना हुई थी. हालांकि लखनऊ से बस के रवाना होने को लेकर खासी गहमा-गहमी रही थी. शायद यह इस रूट पर जाने की नहीं थी. लेकिन इसके बाद भी इसे दिल्ली के लिए भेज दिया गया था.

लेकिन जैसे-तैसे लखनऊ से बस रवाना हुई. कन्नौज के पास आकर बस ड्राइवर और कंडक्टर ने एक जगह चाय पी. हालांकि ड्राइवर का व्यवहार ठीक नहीं था. वो बड़ी ही बदतमीजी से बात कर रहा था. कोई सवा चार बजे करीब बस एक टोल प्लाजा पर रुकी. लेकिन जैसे ही बस टोल प्लाजा से रवाना हुई तो उसके बाद तो मानों ड्राइवर बस को बड़े ही गलत ढंग से चलाने लगा.

फोटो- हादसे की शिकार बस को नाले से निकाला गया.


ज्यादातर लोग नींद में थे. एक जगह एक्सीडेंट से थोड़ा पहले तो ऐसा लगा जैसे बस को फुल स्पीड दे दी गई है. इससे पहले की कोई कुछ समझ पाता तेज धमाके के साथ बस नीचे गिर पड़ी. मैं भी बस में फंस गई. मेरा एक पैर किसी चीज में फंसा हुआ था. लेकिन जैसे-तैसे में बस से निकल सकी.”

बताया जा रहा है कि ड्राइवर को झपकी आने के कारण यह दर्दनाक हादसा हुआ है. अगर रोडवेज के अधिकारी रविवार की रात जरा भी चौंकन्ने होते तो 29 लोगों की जान नहीं जाती. सब कुछ जानते हुए भी लखनऊ से ही बस में एक ड्राइवर भेजा गया था, जबकि नियमानुसार एक ड्राइवर एक दिन में सिर्फ 400 किमी ही बस चला सकता है.

ये भी पढ़ें- बस हादसा: यूपी रोडवेज की इस बड़ी लापरवाही से हुई 29 यात्रियों की मौत
Loading...

6 साल की बच्ची से दुष्कर्म, आंत फटने के बाद दोनों प्राइवेट पॉर्टस किए बंद

जमीयत-उलेमा-हिंद के अध्यक्ष ने कहा, देश के मौजूदा हालात बंटवारे से ज्यादा खतरनाक!
First published: July 8, 2019, 3:42 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...