आगरा: यूपी बार काउंसिल की अध्यक्ष दरवेश यादव को साथी वकील ने मारी गोली, मौत

घटना थाना न्यू आगरा क्षेत्र के कचहरी परिसर की है, जहां सम्मान समारोह के बाद साथी वकील मनीष ने लाइसेंसी पिस्टल से दरवेश यादव (Darvesh Yadav) को गोली मार दी.

News18 Uttar Pradesh
Updated: June 12, 2019, 9:42 PM IST
आगरा: यूपी बार काउंसिल की अध्यक्ष दरवेश यादव को साथी वकील ने मारी गोली, मौत
मृतक वकील दरवेश यादव की फाइल फोटो
News18 Uttar Pradesh
Updated: June 12, 2019, 9:42 PM IST
आगरा में यूपी बार काउंसिल की नई अध्यक्ष अध्यक्ष दरवेश यादव की उनके ही साथी वकील ने गोली मारकर हत्या कर दी है. दरवेश यादव को गोली मारने के बाद साथी वकील मनीष ने खुद को भी गोली मार ली. घटना थाना न्यू आगरा क्षेत्र के कचहरी परिसर की है. बता दें, दो दिन पहले ही दरवेश यादव बार काउंसिल की अध्यक्ष चुनी गई थीं.

यहां सम्मान समारोह के बाद साथी वकील मनीष ने लाइसेंसी पिस्टल से दरवेश यादव को गोली मार दी. उसके बाद उसने खुद को भी गोली मार ली. दोनों को तुरंत जिला अस्पताल पहुंचाया गया, जहां डॉक्टरों ने दरवेश यादव को मृत घोषित कर दिया. वहीं मनीष की हालत अभी गंभीर बनी हुई है.



उधर बार काउंसिल ऑफ इंडिया ने दरवेश यादव की हत्या की निंदा की है. काउंसिल ने प्रदेश सरकार से दरवेश यादव के आश्रितों के लिए 50 लाख रुपए की मांग की है. दरअसल बुधवार दोपहर करीब तीन बजे यूपी बार काउंसिल की अध्‍यक्ष दरवेश सिंह और अधिवक्‍ता मनीष शर्मा के बीच किसी बात को लेकर विवाद हो गया. आगरा के एडीजी अजय आनंद ने बताया कि विवाद इतना बढ़ा कि अधिवक्ता मनीष शर्मा ने दरवेश यादव को एक के बाद एक तीन गोलियां मारीं.

गोली चलने से अदालत परिसर में अफरा-तफरी फैल गई. इसके बाद मनीष शर्मा ने खुद को भी एक गोली मार ली. पुलिस ने दोनों को दिल्‍ली गेट स्थित पुष्‍पांजलि हॉस्पिटल में भर्ती कराया. फिलहाल विवाद के कारण का अभी कुछ पता नहीं चल सका है.

सीएम योगी ने जताया दुख
आगरा में यूपी बार काउंसिल की अध्यक्ष दरवेश यादव की हत्या पर मुख्यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने शोक व्यक्त किया है. उन्‍होंने डीएम को तत्काल घटना के कारणों की जांच करने का निर्देश दिया है. सीएम ने न्याय एवं कानून मंत्री को भी घटनास्‍थल पर जाने को कहा है.

यूपी बार काउंसिल की पहली महिला अध्यक्ष बनी थीं दरवेश
Loading...

दो दिन पहले ही दरवेश उत्तर प्रदेश बार काउंसिल की अध्यक्ष निर्वाचित हुई थीं. यूपी बार काउंसिल के इतिहास में वे पहली महिला अध्यक्ष बनी थीं. यूपी बार काउंसिल का चुनाव रविवार को प्रयागराज में हुआ था. दरवेश सिंह और हरिशंकर सिंह को बराबर 12-12 वोट मिले. दरवेश सिंह के नाम एक रिकॉर्ड यह भी है कि बार काउंसिल के 24 सदस्यों में वे अकेली महिला थीं. चुनाव मैदान में कुल 298 प्रत्याशी थे.

दरवेश सिंह मूल रूप से एटा की रहने वाली थीं. 2016 में वे बार काउंसिल की उपाध्यक्ष और 2017 में कार्यकारी अध्यक्ष रह चुकी थीं. वे पहली बार 2012 में सदस्य पद पर विजयी हुई थीं. तभी से बार काउंसिल में सक्रिय रहीं. उन्होंने आगरा कॉलेज से विधि स्नातक की डिग्री हासिल की. डॉ. भीमराव आंबेडकर विश्वविद्यालय (आगरा विश्वविद्यालय) से एलएलएम किया. उन्होंने 2004 में वकालत शुरू की.

क्या कह रहे हैं अधिकारी



दरवेश यादव पर गोली चलने के बाद प्रदेश प्रशासन में हड़कंप मच गया है. एडीजी आगरा अजय आनंद ने मामले पर कहा है कि हमलावर मनीष शर्मा भी गंभीर हालत में है और उसका इलाज जारी है.

(इनपुट: आरिफ खान)

ये भी पढ़ें: लखनऊ को अवैध डेयरियों से मिलेगी निजात, 21 से चलेगा ऑपरेशन ऑल आउट

ये भी पढ़ें: यूपी में अब सेशन कोर्ट भी दे सकेंगे अग्रिम जमानत, गृह विभाग ने जारी किया आदेश

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास,सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदीWhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...