• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • जेवर एयरपोर्ट पर न लगे जाम, इसके लिए बनाई जाएंगी टनल्स, जानिए पूरा प्लान

जेवर एयरपोर्ट पर न लगे जाम, इसके लिए बनाई जाएंगी टनल्स, जानिए पूरा प्लान

प्लान के तहत एयरपोर्ट टनल्स बनाई जाएंगी. आने वाले प्लेन इन्हीं टनल्स में पार्क किए जाएंगे.

प्लान के तहत एयरपोर्ट टनल्स बनाई जाएंगी. आने वाले प्लेन इन्हीं टनल्स में पार्क किए जाएंगे.

जेवर एयरपोर्ट (Jewar Airport) का लॉजिस्टिक्स एरिया भी अंडरग्राउंड मतलब टनल्स में होगा. गौरतलब रहे एयरपोर्ट के 100 फीसद ऑपरेशनल हो जाने के बाद यहां से 50 मिलियन यात्री (Passenger) उड़ान भरेंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    नोएडा. जेवर एयरपोर्ट (Jewar Airport) देश का बड़ा एयरपोर्ट बनने जा रहा है. इसे देखते हुए एयरपोर्ट पर आने वाली हर छोटी-बड़ी परेशानी को देर करने का प्लान अभी से तैयार किया जा रहा है. इसी के चलते एयरपोर्ट पर ट्रैफिक जाम (Traffic Jam) जैसी परेशानी को दूर करने के लिए एक बड़ा प्लान बनाया गया है. प्लान के तहत एयरपोर्ट टनल्स बनाई जाएंगी. आने वाले प्लेन इन्हीं टनल्स में पार्क किए जाएंगे. इतना ही नहीं जेवर एयरपोर्ट का लॉजिस्टिक्स एरिया भी अंडरग्राउंड मतलब टनल्स में होगा. गौरतलब रहे एयरपोर्ट के 100 फीसद ऑपरेशनल हो जाने के बाद यहां से 50 मिलियन यात्री (Passenger) उड़ान भरेंगे.

    यात्रियों के लिए यमुना एक्सप्रेस वे की तरफ बनेगा एंट्री और एग्जिट गेट

    भीड़ को कंट्रोल करने के लिए जेवर एयरपोर्ट के निर्माण में हर तरह की छोटी-बड़ी बात का ख्याल रखा जा रहा है. इसी के चलते यात्रियों और लॉजिस्टिक्स एरिया के लिए अलग-अलग एंट्री और एग्जिट गेट दिए जा रहे हैं. यात्रियों के लिए एंट्री और एग्जिट गेट यमुना एक्सप्रेस वे की तरफ बनाया जा रहा है. यात्रियों के सभी तरह के वाहन एक्सप्रेस की ओर से आएंगे.

    वहीं लॉजिस्टिक्स एरिया के लिए एंट्री और एग्जिट गेट पूर्व की दिशा में बनाए जाएंगे. एयरपोर्ट में एंट्री और एग्जिट के दौरान किसी भी तरह ट्रैफिक जाम की परेशानी से न जूझना पड़े, इसके लिए यह प्लान बनाया गया है.

    मुर्गी का छोटा अंडा सेहत के लिए होता है सबसे ज्यादा फायदेमंद, जानिए वजह

    एयरपोर्ट से ग्रेटर नोएडा तक चलेगी पॉड टैक्सी

    जेवर एयरपोर्ट से ग्रेटर नोएडा तक पॉड टैक्सी चलाने का रास्ता काफी हद तक साफ हो गया है. हाल ही में यमुना अथॉरिटी ने अपना बजट जारी किया था. बजट में मल्टी मॉडल कनेक्टिविटी मेट्रो, पॉड टैक्सी और रोड के लिए 300 करोड़ रुपये दिए गए हैं. चर्चा है कि शुरुआत में फिल्म सिटी से जेवर एयरपोर्ट तक के 5.5 किमी के रूट पर पॉड टैक्सी चलाई जा सकती है.

    भारत में पॉड टैक्सी चलाए जाने का यह पहला प्रयोग है. सूत्रों की मानें तो बजट में पॉड टैक्सी के लिए दी गई रकम से शुरुआत में डीपीआर और फिजिबिलिटी जैसी रिपोर्ट तैयार होंगी. बजट के दौरान पॉड टैक्सी का प्रेजेंटेशन भी देखा गया था. जेवर एयरपोर्ट और फ़िल्म सिटी के बीच तमाम मल्टीनेशनल कंपनियों के दफ्तर और कॉमर्शियल कॉम्प्लेक्स बनेंगे, इसे ध्यान में रखते हुए भी जेवर एयरपोर्ट से फिल्म सिटी तक के रूट को पहले फेज के लिए चुने जाने की चर्चाएं हैं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज