लाइव टीवी

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले आरएलडी और जेडीयू में हो सकता है विलय

Pradesh18
Updated: February 6, 2016, 12:13 AM IST
उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले आरएलडी और जेडीयू में हो सकता है विलय

  • Pradesh18
  • Last Updated: February 6, 2016, 12:13 AM IST
  • Share this:
2017 में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर उत्तर प्रदेश में राजनीति ने करवट लेना शुरू कर दी है. रोज बन रहे नए समीकरणों के बीच एक खबर ये है कि चौधरी अजित सिंह की पार्टी राष्ट्रीय लोकदल और शरद और नीतीश कुमार की पार्टी जनता दल युनाइटेड का आपस में विलय हो सकता है.

अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस में छपी खबर के मुताबिक प्रदेश में तीन विधानसभा सीटों बीकापुर, देवबंद और मुजफ्फरनगर में होने वाले उपचुनाव के लिए जेडीयू ने पहले ही आरएलडी प्रत्याशियों के समर्थन का ऐलान कर दिया है.

शरद यादव और अजित सिंह के बीच एक हफ्ते पहले मुलाकात हुई है. इससे पहले भी अजित सिंह शरद यादव की किताब के विमोचन में भी मिल चुके हैं. इस दौरान वहां पर नीतीश कुमार भी मौजूद थे.

गौरतलब है कि बिहार विधानसभा चुनाव से पहले 6 क्षेत्रीय दल, जेडीयू, आरजेडी, समाजवादी पार्टी, जेडीएस, आईएनएलडी को एक पार्टी बनाने की कोशिश हो चुकी है.

लेकिन ऐन मौके पर मुलायम सिंह यादव ने इस प्रक्रिया से खुद को अलग कर लिया था जिसके पीछे वजह थी बिहार विधानसभा चुनाव में सीटों के बंटवारे के मुद्दे पर सपा सुप्रीमो नाराज हो गए थे.
हालांकि खबर ये भी थी कि तब मुलायम सिंह के ही कहने पर आरएलडी को महागठबंधन में शामिल नहीं किया गया था.

आपको बता दें कि लोकसभा चुनाव में अजित सिंह और उनके बेटे दुष्यंत सिंह दोनों ही चुनाव हार गए थे. लोकसभा चुनाव में मोदी लहर के प्रभाव में जाट वोट बैंक बुरी तरह से आरएलडी के हाथ से खिसक गया था.इस हार के बाद से आरएलडी को प्रदेश में नई राजनीतिक जमीन की तलाश है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मेरठ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 5, 2016, 11:41 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर