अलीगढ़ जहरीली शराब कांड में मृतकों का आंकड़ा 18 पर पहुंचा, आरोपियों पर 50-50 हजार का इनाम

अलीगढ़ में जहरीली शराब पीने से अब तक 18 लोगों की मौत

अलीगढ़ में जहरीली शराब पीने से अब तक 18 लोगों की मौत

Aligarh Poisonous Liquor Case: जहरीली शराब से हुई मौतों के मामले में अलीगढ़ पुलिस ने 3 थाना क्षेत्रों में दर्ज किया मुकदमा. 4 लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू. घटना के बाद 5 ठेके सीज, शराब की 500 दुकानों को 24 घंटे बंद रखने का दिया गया था आदेश.

  • Share this:

अलीगढ़. उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ जिले में जहरीली शराब (Poisonous Liquor) पीने से अब तक 18 लोगों की मौत हो चुकी है. जिनमें गैस बॉटलिंग प्लांट के चार ड्राइवरों की भी मौत हुई है. वहीं तीन शराब के ठेकों को सील किया गया है. डीएम ने मामले की मजिस्ट्रियल जांच बैठा दी गई है. अलीगढ़ एसएसपी कलानिधि नैथानी के अनुसार शराब के सेवन से हुए मौतों के मामलों में तीन थाना क्षेत्रों में तीन अलग-अलग मुकदमे दर्ज किए गए हैं. आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छह टीमों का गठित की गई है. पुलिस ने चार लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी गई है.

आरोपियों के खिलाफ गैंगेस्टर व एनएसए के अर्न्तगत कार्यवाही की जाएगी. एडीजी ने फरार मामले के दो फरार मुख्य आरोपियों ऋषि शर्मा और विपिन यादव पर 50-50 हजार रुपये का इनाम घोषित कर दिया गया. इस मामले में सीएम के निर्देश पर जिला आबकारी अधिकारी धीरज शर्मा समेत तीन अधिकारियों को निलंबित कर दिया गया है. वहीं अलीगढ़ जिले के आबकारी अधिकारी का कहना है कि घटना के बाद 5 शराब के ठेकों को सीज कर दिया गया है. जिले में शराब के करीब 500 ठेकों को 24 घंटे तक बंद रखने के आदेश दे दिए गये हैं. नकली शराब जिले में बनाई जा रही थी. सरकारी बोतलों में रिफलिंग कर ठेकों से शराब बेची जा रही थी.

UP: अपनी ही सरकार में बेबस बीजेपी विधायक, बेटे की मौत पर दर्ज नहीं हो रही FIR, देखें VIDEO

आबकारी अधिकारी धीरज शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया है कि ठेके से बेची जा रही शराब कि सैंपल ले लिए गए हैं. 5 ठेकों पर कार्यवाही करते हुए उनको सीज कर दिया गया है. प्रथम दृष्टया यह प्रतीत होता है कि जो शराब की बोतल हैं. मृतकों के घर से मिली हैं, उसमें ठेका संचालक द्वारा रिफिलिंग करके शराब को बेचा जा रहा था. पूरे मामले में सैंपल ओं की जांच हेतु प्रयोगशाला भेजा गया है. नकली शराब प्रशासन मामले की जांच में जुटा है. मृतक के परिजनों का कहना है कि जहरीली शराब पीने से सभी लोगों की मौत हुई है, सभी मरने वाले लोगों ने सरकारी ठेके से शराब खरीद कर पी थी, जिसके बाद सभी की तबियत बिगड़ने लगी और मौत हो गई.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज