हाथरस की मासूम के साथ अलीगढ़ में रेप और इलाज के दौरान मौत मामले में SHO सस्पेंड

अलीगढ़ के एसएसपी मुनिराज.
अलीगढ़ के एसएसपी मुनिराज.

अलीगढ़, एसएसपी (Aligarh SSP) मुनिराज ने कहा कि एफआईआर में बच्ची की मौसी नामजद है और उसकी गिरफ्तारी अब तक नहीं हुई है. इस मामले में लापरवाही के कारण इगलास थाना प्रभारी को निलंबित कर दिया गया है और उनके खिलाफ विभागीय जांच के भी आदेश दिए हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 6, 2020, 3:14 PM IST
  • Share this:
अलीगढ़. उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ (Aligarh) में हाथरस (Hathras) की रहने वाली एक और बेटी के साथ दरिंदगी हुई. 4 वर्षीय मासूम बच्ची के साथ रिश्ते के भाई पर दुष्कर्म (Rape) का आरोप लगा है. इलाज के दौरान मासूम की दिल्ली के सफदरगंज में मौत हो गई. पता चला कि मां की मौत के बाद बच्ची अपनी बड़ी बहन के साथ मौसी के घर पर रह रही थी. यहां मौसी के लड़के ने मासूम के साथ दरिंदगी की. मामले में बच्ची के पिता ने हाथरस के थाना कोतवाली सादाबाद क्षेत्र के बलदेव रोड पर मासूम बच्ची का शव रखकर प्रदर्शन किया और न्याय की मांग की है. मामले में मौसी का लड़का गिरफ्तार हो गया है लेकिन नामजद मौसी अभी भी फरार है.

थाना प्रभारी के खिलाफ विभागीय जांच के आदेश
मामले में अब एसएसपी अलीगढ़ मुनिराज ने आरोपी को गिरफ्तार नहीं करने और पीड़ित पक्ष को धमकाने के आरोप में इगलास थाना प्रभारी को निलंबित कर दिया है. साथ ही विभागीय जांच के भी आदेश दिए हैं. इधर, डीएम अलीगढ़ ने ट्वीट कर बताया कि इगलास में एक बच्ची के साथ मौसेरे भाई के द्वारा रेप की घटना के संबंध में थाने में एफआईआर दर्ज कर मुख्य आरोपी को जेल भेज दिया गया है. लापरवाही के चलते एसओ इगलास को निलंबित किया गया है. साथ ही पीड़ित परिवार को 10 लाख रुपए की आर्थिक मदद दी जा रही है.







एसएसपी ने बताया कि इगलास थाना क्षेत्र में 10 दिन पहले चाइल्डलाइन से सूचना मिली कि एक 4 साल की मासूम बच्ची को घर पर बंधक बनाया गया है, वह काफी कमजोर हालत में पड़ी है. मामले में पुलिस टीम ने बच्ची को तुरंत एडमिट कराया. जांच में पता चला कि बच्ची अपनी मौसी के घर रहती थी. उसकी मां का 6 महीने पहले निधन हो गया था. इसके बाद बच्ची के पिता ने 21 तारीख को पुलिस को एप्लीकेशन दी कि जिस पर फौरन एफआईआर दर्ज कर ली गई. मामले में मौसी और उसके लड़के को नामजद किया गया है.

सफदरगंज अस्पताल में हुई बच्ची की मौत
जांच में पता चला कि मौसी के दूसरे लड़के का नाम प्रकाश में आया. उसने स्वीकार किया कि लड़की के साथ उसने गलत काम किया है. पुलिस ने उसे तुरंत गिरफ्तार कर जेल भेज दिया. बच्ची का इलाज लगातार जेएन मेडिकल कॉलेज में चल रहा था. उसकी स्थिति काफी गंभीर थी, जिसके बाद उसे दिल्ली रेफर किया गया. दिल्ली के सफदरगंज अस्पताल में इलाज के दौरान बच्ची का निधन हो गया.

एसएसपी ने कहा कि एफआईआर में मौसी नामजद है और उसकी गिरफ्तारी अब तक नहीं हुई है. इस मामले में लापरवाही के कारण इगलास थाना प्रभारी को निलंबित कर दिया गया है और उनके खिलाफ विभागीय जांच के भी आदेश दिए हैं. (इनपुट: रंजीत सिंह)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज