अलीगढ़ः प्रशासन के नाक के नीचे एक वर्ष में खुले आधा दर्जन अवैध हुक्का बार

दिलचस्प बात यह है कि जिला प्रशासन को इसकी भनक तक नहीं है और न ही अधिकारियों ने कभी हुक्का बार खुलने के बारे में जानकारी जुटाने की कोशिश ही की है.

ETV UP/Uttarakhand
Updated: March 15, 2018, 3:29 PM IST
अलीगढ़ः प्रशासन के नाक के नीचे एक वर्ष में खुले आधा दर्जन अवैध हुक्का बार
Aligarh: हुक्का बार में ड्रग के लती बन रहे हैं युवा
ETV UP/Uttarakhand
Updated: March 15, 2018, 3:29 PM IST
अलीगढ़ जिले में सारे नियम-कायदों को ताख पर रखकर एक वर्ष में 6 अवैध हुक्का बार खुलने का मामला सामने आया है. दिलचस्प बात यह है कि जिला प्रशासन को इसकी भनक तक नहीं है और न ही अधिकारियों ने कभी हुक्का बार खुलने के बारे में जानकारी जुटाने की कोशिश ही की है.

रिपोर्ट के मुताबिक शहर के मैरिस रोड, सेंटर प्वाइंट, केला नगर चौराहे के पास, रामघाट रोड, जमालपुर और स्वर्ण जयंती नगर में करीब आधा दर्जन अवैध हुक्का बार चल रहे हैं. यहां शाम ढलते ही रौनक शुरु हो जाती है. इन हुक्का बारों में युवा ही नहीं, हर आयु वर्ग के लोग रोजाना पहुंचते हैं, जहां फ्लेवर के अनुसार हुक्कों की कीमत तय होती है, जो 200 रुपए से 1000 रुपए हैं.



बताया जाता है एक दो बार हुक्का बार में आने वाले युवाओं को फिर हुक्का बार में आने की लत लग जाती है, लेकिन प्रशासन के नींद नहीं टूटने की वजह से अवैध हुक्का बार बेखौफ चल रहे हैं. यही नहीं, हुक्का बार संचालक ज्यादा से ज्यादा ग्राहकों को लुभाने के लिए हुक्का बार में वनीला, गुलाब, जसमीन, शहद, मैगो, स्ट्राबेरी, पाइन एप्पल, मिंट, कोकटेल और चैरी गोल्ड जैसे फ्लेवर में उपलब्ध करा रहे हैं.

मामले पर अलीगढ़ एसएसपी ने कहा कि शहर में संचालित हो रहे अवैध हुक्का बारों की जानकारी जुटाई जा रही है. उन्होंने कहा कि हुक्का बार की आड़ में नशे का कारोबार नहीं होने दिया जाएगा.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...