जिन्ना की तस्वीर के बाद अब बीजेपी सांसद ने AMU में आरक्षण के लिए लिखा कुलपति को पत्र

पत्र में सांसद ने सवाल उठाया है कि उच्चतम न्यायालय में विवि प्रशासन द्वारा किन तर्कों के आधार पर दलितों व पिछड़ों के आरक्षण को लागू करने से रोकने के प्रयास किए जा रहे हैं?

Alok singh | News18 Uttar Pradesh
Updated: July 3, 2018, 12:22 PM IST
जिन्ना की तस्वीर के बाद अब बीजेपी सांसद ने AMU में आरक्षण के लिए लिखा कुलपति को पत्र
अलीगढ़ से बीजेपी सांसद सतीश गौतम
Alok singh | News18 Uttar Pradesh
Updated: July 3, 2018, 12:22 PM IST
अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (एएमयू) में जिन्ना की तस्वीर के बाद अब दलितों व पिछड़ों को आरक्षण देने के लिए सांसद सतीश गौतम ने कुलपति को पत्र लिखा है. सांसद ने ऐसे समय एएमयू कुलपति को पत्र लिखा है जब राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के अध्यक्ष प्रो. रामशंकर कठेरिया आरक्षण मामले को लेकर मंगलवार को एएमयू अधिकारियों के साथ मीटिंग करने जा रहे हैं. कहा जा रहा है एएमयू में आरक्षण का मुद्दा आयोग के अध्यक्ष प्रो. कठेरिया की बैठक के बाद गरमा सकता है. इस बैठक में कुलपति व रजिस्ट्रार को भी आमंत्रित किया गया है.

यह भी पढ़ें: जिन्ना की तस्वीर मामले में AMU वीसी तारिक मंसूर गृहमंत्री राजनाथ सिंह से मिले

अब बैठक से पहले ही सांसद सतीश कुमार गौतम ने मामले में अपनी उपस्थिति दर्ज कराई हैं. उन्होंने दो जुलाई को कुलपति को एक पत्र लिखा है. पत्र में सांसद ने सवाल उठाया है कि उच्चतम न्यायालय में विवि प्रशासन द्वारा किन तर्कों के आधार पर दलितों व पिछड़ों के आरक्षण को लागू करने से रोकने के प्रयास किए जा रहे हैं? देश के सभी केंद्रीय विश्वविद्यालय में संविधान के तहत आरक्षण का प्रावधान है.

बीजेपी सांसद सतीश गौतम का पत्र





अलीगढ़ सांसद ने पत्र में आगे लिखा है कि, "मेरे लोकसभा क्षेत्र अलीगढ़ के तहत पड़ने वाले एक मात्र केंद्रीय विश्वविद्यालय में दलित व पिछड़े वर्ग के छात्रों को शिक्षा से वंचित रखा जाना दुर्भाग्यपूर्ण है. मेरा आग्रह है कि शीघ्र ही विवि प्रशासन द्वारा ऐसे प्रयास किए जाएं, जिससे इस वर्ग के विद्यार्थियों को भी शिक्षा प्राप्त करने के ज्यादा अवसर मिलें."

यह भी पढ़ें: AMU में जिन्ना के बाद अब इस राजा की तस्वीर को लेकर विवाद

यह भी पढ़ें: सुनिए कैसे AMU में लग रहे हैं आजादी बनाम आजादी के नारे
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर