जहरीली शराब पीने से 11 लोगों की मौत, दोषियों पर लगेगा NSA, आबकारी अधिकारी समेत तीन अफसर सस्पेंड

अलीगढ़ में जहरीली शराब पीने से 11 लोगों की मौत हो गई है, जिसके बाद जिले में हड़कंप मच गया है.

अलीगढ़ में जहरीली शराब पीने से 11 लोगों की मौत हो गई है, जिसके बाद जिले में हड़कंप मच गया है.

Aligarh News: अलीगढ़ में जहरीली शराब पीने से 11 लोगों की मौत के बाद हड़कंप मच गया. घटना के बाद 5 शराब के ठेकों को सीज कर दिया गया है. जिले में करीब 500 शराब के ठेकों को 24 घंटे तक बंद रखने के आदेश दे दिए गये हैं.

  • Share this:

अलीगढ़. उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ जिले में जहरीली शराब पीने से अब तक 11 लोगों की मौत हो चुकी है, जिसमें लोधा थाना क्षेत्र के करसुआ गांव में शराब पीने से सुबह 8 लोगों की मौत हुई, इसके कुछ देर बाद ही सिविल लाइन सर्किल के जवां थाना क्षेत्र इलाके के छेरत में 3 लोगों की मौत हो गई. वहीं 1 व्यक्ति को घायल अवस्था में जेएन मेडिकल कॉलेज भेजा में भर्ती कराया गया है. मृतक के परिजनों का कहना है कि जहरीली शराब पीने से सभी लोगों की मौत हुई है, सभी मरने वाले लोगों ने सरकारी ठेके से शराब खरीद कर पी थी, जिसके बाद सभी की तबियत बिगड़ने लगी और मौत हो गई.

सीएम योगी ने इस घटना में शामिल दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं. सीएम ने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि दोषियों पर तत्काल एनएसए की कार्रवाई की जाए. घटनास्थल पर डीएम-एसपी के अलावा एसडीएम रंजीत सिंह पहुंचे हैं. इस मामले में सीएम के निर्देश पर जिला आबकारी अधिकारी धीरज शर्मा समेत तीन अधिकारियों को निलंबित कर दिया गया है.

Youtube Video

वहीं अलीगढ़ जिले के आबकारी अधिकारी का कहना है कि घटना के बाद 5 शराब के ठेकों को सीज कर दिया गया है. जिले में करीब 500 शराब के ठेकों को 24 घंटे तक बंद रखने के आदेश दे दिए गये हैं. नकली शराब जिले में बनाई जा रही थी. सरकारी बोतलों में रिफलिंग कर ठेकों से शराब बेची जा रही थी. शराब पीने से अब तक 11 लोगों की मौत हो चुकी है. वहीं लोधा थाना पुलिस में शराब कांड में आरोपी 3 ठेका संचालकों को हिरासत में ले लिया है और पूछताछ जारी है.
देशी शराब में सरकारी ठेके से की जा रही थी रिफलिंग

अलीगढ़ जहरीली शराब कांड में अब तक 11 लोगों की मौत हो गई है. वहीं 6 लोगों का इलाज अलीगढ़ जिला अस्पताल में किया जा रहा है. पूरे मामले में जिस कंपनी की देसी शराब का सेवन करने से कोतवाली लोधा क्षेत्र के गांव करसुआ, अंडला, कोतवाली जवा कस्वा के 11 लोगों की मौत हुई है. अलीगढ़ के रामघाट रोड स्थित वेब डिस्टलरीज कंपनी में तैयार की गई थी. गुड इवनिंग ब्रांड की देसी शराब गांव में सरकारी देसी शराब के ठेके से गुड इवनिंग ब्रांड की बेची जा रही थी बोतलें. क्या अलीगढ़ में कंपनी के ब्रांड की स्टीकर लगाकर अवैध रूप से बेची जा रही थी. नकली शराब प्रशासन मामले की जांच में जुटा.




आबकारी अधिकारी धीरज शर्मा से न्यूज 18 की खास बातचीत में धीरज शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया है कि ठेके से बेची जा रही शराब कि सैंपल ले लिए गए हैं. 5 ठेकों पर कार्यवाही करते हुए उनको सीज कर दिया गया है. प्रथम दृष्टया यह प्रतीत होता है कि जो शराब की बोतल हैं. मृतकों के घर से मिली हैं, उसमें ठेका संचालक द्वारा रिफिलिंग करके शराब को बेचा जा रहा था. पूरे मामले में सैंपल ओं की जांच हेतु प्रयोगशाला भेजा गया है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज